'अल क़ायदा' की ओर से राहत सामग्री बाँटी गई

अल शबाब इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption मोगादिशु को छोड़, सोमालिया के काफ़ी क्षेत्र पर अल शबाब का कब्ज़ा है

सोमालिया में इस्लामी विद्रोही संगठन अल-शबाब के एक कार्यक्रम में ख़ुद को अल क़ायदा संगठन से जुड़ा बताने वाले एक व्यक्ति ने मोगादिशु के पास एक शरणार्थी शिविर में लोगों को संबोधित किया है.

इस कार्यक्रम में अल शबाब के मुताबिक अल क़ायदा की ओर से भेजी गई राहत सामग्री भी बांटी गई है.

बीबीसी की सोमाली सेवा प्रमुख यूसुफ़ गराद उमर के अनुसार अल शबाब ने पहले भी अल क़ायदा से अपने संबंधों छिपाया नहीं है लेकिन इस कार्यक्रम से दोनों संगठनों के संबंध और स्पष्ट हुए हैं.

संयुक्त राष्ट्र के अनुसार सोमालिया में लगभग 7.5 लाख लोग भुखमरी की कगार पर हैं लेकिन अल शबार के नियंत्रण वाले इलाक़ों में अंतरराष्ट्रीय एजेंसियों को राहत सामग्री भेजने की इजाज़त नहीं है.

'आयमन ज़्वाहिरी से संदेश'

अल शबाब के कार्यक्रम में पेश हुए व्यक्ति को अमरीकी नागरिक अबू अब्दुल्ला अल मोहाजिर कह कर संबोधित किया गया.

अल मोहाजिर ने अमरीकी एक्सेंट में बात की और खाद्य पदार्थ, हिजाब और पवित्र क़ुरान बाँटे.

अल शबाब के नियंत्रण वाले इलाक़ों को सूखाग्रस्त घोषित कर दिया गया है.ट

सोमालिया में संयुक्त राष्ट्र के समर्थन वाली सरकार का नियंत्रण केवल मोगादिशु पर है जबकि बाक़ी के क्षेत्र में सैकड़ों विदेशी लड़ाके अल शबाब की मदद कर रहे हैं.

इस कार्यक्रम में अल मोहाजिर के साथ अल शबाब के प्रवक्ता शेख अली मोहम्मद रागे थे और उन्होंने कहा कि 4000 लोगों के बीच आटा, खाना बनाने का तेल, खजूर और दूध बाँटा जा रहा है.

अल मोहाजिर का कहना था कि वे इस कार्यक्रम में अल क़ायदा नेता अयमन अल ज़्वाहिरी का संदेश लेकर आए हैं.

उन्होंने कहा, "अपने हाल के संदेश में शेख़ अयमन ने मुस्लिम जगत का ध्यान सोमालिया में सूखे की ओर केंद्रित किया है और उन्हें सोमालिया में अपने भाइयों की मदद करने को कहा है. इसी के साथ अल क़ायदा के आपके भाई जो कुछ एकत्र कर पाए हैं, वो हमारे भाइयों और बहनों के बीच बांटा जाएगा."

स्पष्ट है कि कार्यक्रम का अल शबाब ने प्रचार के लिए और ये बताने के लिए भी कि वह अपने कब्ज़े वाले इलाक़ों में मदद पहुँचा सकता है.

मोगादिशु से पत्रकारों को इस कार्यक्रम के लिए आमंत्रित किया गया था.

संबंधित समाचार