हिरासत में लिए गए 'सैकड़ों बच्चे'

detention इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption कॉरिडोर के बाहर सुरक्षाकर्मी

अगर आपकी उम्र 18 साल से कम है और आप जल्द ही हवाई जहाज़ या समुद्र के रास्ते ब्रिटेन की यात्रा करने वाले हों तो शायद ये यात्रा इतनी सुखद ना हो, क्योंकि ब्रिटेन के बंदरगाहों और हवाई अड्डों पर मई से लेकर अगस्त महीने के बीच क़रीब सात सौ किशोरों और बच्चों को हिरासत में लिया गया.

बीबीसी को मिली जानकारी के अनुसार इनको ब्रिटेन की बॉर्डर एजेंसी ने हिरासत में लिया था. सूचना के अधिकार क़ानून से मिली जानकारी में कहा गया कि हिरासत में लिए गए सभी 697 किशोरों की उम्र 18 साल से कम थी.

इन सभी किशोरों को ब्रिटेन में डोवर के बंदरगाह और हीथ्रो,गैटविक एवं स्टैनस्टेड हवाईअड्डों पर हिरासत में लिया गया.

बच्चों की जिस संस्था को ये आंकड़े मिले है उनके मुताबिक ये जानकारी ना सिर्फ बहुत ज़्यादा हैं बल्कि भयावह भी हैं.

जांच के दौरान हिरासत

गृह मंत्रालय के मुताबिक़ इन किशोरों को कम से कम चौबीस घंटों के लिए हिरासत में रखा गया था और ये सब कुछ किया गया एयरपोर्ट और बंदरगाहों पर पहुँचने के बाद वहां होने वाली जांच के दौरान.

बीबीसी संवाददाता डैनी शॉ के मुताबिक दस्तावेज़ों से पता चला कि हिरासत में लिए गए सभी किशोर अकेले यात्रा कर रहे थे.

बीबीसी संवाददाता का कहना है कि पूरे ब्रिटेन में जांच के दौरान हज़ारों बच्चों को हिरासत में लिए जाने की बात सामने आई है.

कारागार के चीफ़ इंस्पेक्टर निक हार्डविक ने बंदरगाहों और हवाई अड्डों पर शुरु हुए इस चलन पर चिंता व्यक्त की है.

कुछ दिन पहले इंडीपेंडेंट मॉनिटरिंग बोर्ड ने भी हीथ्रो हवाई अड्डे पर हिरासत में रखे जाने वाली जगहों को अपमानजनक बताया था.

संबंधित समाचार