इतिहास के पन्नों में 19 अक्तूबर

इतिहास में 19 अक्तूबर की तारीख़ के नाम कई घटनाएं दर्ज हैं. इसी दिन ब्रिटेन की एक सहायताकर्मी का इराक़ में अपहरण कर लिया गया था और दुनिया भर के शेयर बाजारों में भारी गिरावट दर्ज की गई थी.

2004: ब्रितानी सहायताकर्मी का इराक़ में अपहरण

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption मारग्रेट हसन पिछले 25 साल से इराक़ में काम कर रही थीं

19 अक्तूबर 2004 को इराक़ में एक वरिष्ठ ब्रितानी सहायताकर्मी को काम पर जाते वक़्त कुछ अज्ञात लोगों ने अगवा कर लिया गया था.

59 वर्षीय मारग्रेट हसन ने एक इराक़ी नागरिक से शादी की थी और उन्हें ब्रिटेन और इराक़ दोनों ही देशों की नागरिकता हासिल थी.

इराक़ में केयर इंटरनेशनल की प्रमुख मारग्रेट के पति तहसीन अली हसन ने अल जज़ीरा टीवी चैनल को बताया कि दफ़्तर के नज़दीक ही उन्हें अगवा कर लिया गया था.

उन्होंने बताया कि दो कार सवार लोगों ने उनकी कार को रोका और फिर कार चालक पर हमला कर मारग्रेट को किसी अज्ञात स्थान पर ले गए.

हसन ये भी बताया कि उनकी पत्नी को इससे पहले कोई धमकी नहीं दी गई थी हालांकि वो इराक़ पर संयुक्त राष्ट्र के प्रतिबंधों के ख़िलाफ़ थीं.

1987: शेयरों की क़ीमत में भारी गिरावट

Image caption लंदन स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध शेयरों की क़ीमत में 50 अरब पाउंड की गिरावट आई थी.

इसी दिन साल 1987 में न्यूयॉर्क के वॉल स्ट्रीट में बिकवाली के भारी दबाव के बीच शेयरों की क़ीमत में भारी गिरावट दर्ज की गई थी और इसका असर दुनिया भर के शेयर बाज़ारों पर हुआ था.

डाओ जोन्स के औद्योगिक औसत में रिकॉर्ड 508 अंकों की गिरावट दर्ज की गई थी.

वॉल स्ट्रीट के शेयरों के मूल्य में भी भारी गिरावट आई थी और सामूहिक रूप से हुए नुक़सान का आकलन अक्तूबर 1929 के ''काले सोमवार'' से भी ज़्यादा किया गया था.

अमरीकी राष्ट्रपति के कार्यालय व्हाइट हाउस ने एक बयान जारी कर निवेशकों से संयम बरतने की अपील की थी.

इस बयान में राष्ट्रपति रोनाल्ड रीगन ने कहा था कि अमरीकी अर्थव्यवस्था को कोई संकट नहीं है.

संबंधित समाचार