एफ़वन का कर माफ़ करने पर यूपी को नोटिस

इमेज कॉपीरइट AFP Getty
Image caption ग्रेटर नोएडा में रेस ट्रेक का निर्माण जेपी इंडस्ट्रीज़ ने किया है.

सुप्रीम कोर्ट ने ग्रेटर नोएडा में फ़ॉर्मुला वन इंटरनेशनल इवेंट का मनोरंजन और लग्ज़री कर माफ़ करने के मामले में उत्तर प्रदेश सरकार को नोटिस दिया है.

अगले हफ़्ते इस रेस ट्रेक पर भारत की पहली फ़ार्मुला वन रेस होगी.

ये नोटिस एक जनहित याचिका के बाद दिया गया है.

उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव और अन्य को इस नोटिस का जवाब आगामी शुक्रवार तक देने के लिए कहा गया है.

इसबीच भारत की पहली फ़ॉर्मुला वन रेस की मेज़बानी करने वाले बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट को ग्रेटर नोएडा में मंगलवार को उदघाटन किया गया है.

जनहित याचिका अमित कुमार ने दायर की है. उन्होंने मायावती सरकार पर फ़ॉर्मुला वन रेस के लिए करों में माफ़ी पर सवाल उठाए हैं.

याचिकाकर्ता का आरोप है कि मायावती सरकार ने ऐसा जेपी इंडस्ट्रीज़ की सहायता करने के लिए किया है.

जेपी ग्रुप उत्तर प्रदेश में कई निर्माण परियोजनाओं में जुटा है.

संबंधित समाचार