'जैक्सन की मौत के ज़िम्मेदार हैं मरे'

इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption डॉक्टर मरे पर ग़ैर इरादतन हत्या का मुक़दमा चल रहा है मगर डॉक्टर मरे हर तरह के आरोप से इनकार करते हैं

पॉप गायक माइकल जैक्सन की मौत की वजह बनी दवा प्रोपोफ़ोल के जाने-माने विशेषज्ञ डॉक्टर स्टीवन शफ़ेर का कहना है कि जैक्सन के फ़िज़ीशियन डॉक्टर कोनराड मरे ने देखभाल में लापरवाही की.

डॉक्टर मरे पर ग़ैर इरादतन हत्या का मुक़दमा चल रहा है मगर डॉक्टर मरे हर तरह के आरोप से इनकार करते हैं.

इसी मामले की सुनवाई के दौरान ज्यूरी के सदस्यों को डॉक्टर शफ़ेर ने बताया कि प्रोपोफ़ोल के इस्तेमाल में एक डॉक्टर से जो देखभाल की अपेक्षा होती है वो डॉक्टर मरे ने नहीं की.

डॉक्टर स्टीवन शफ़ेर ने अदालत को बताया कि माइकल जैक्सन के डॉक्टर ने प्रोपोफ़ोल के इस्तेमाल को लेकर 17 गंभीर ग़लतियां कीं.

कोलंबिया विश्वविद्यालय में प्रोफेसर ने कहा कि इस दवा का प्रयोग नींद न आने की दवा के रूप में नहीं किया जाता.

उन्होंने कहा कि अनिद्रा यानि इन्सोमनिया के इलाज के लिए प्रोपोफ़ोल का इस्तेमाल कभी नहीं किया चाहिए.

गंभीर लापरवाही

इसलिए डॉक्टर कोनराड मरे की लापरवाही ही सीधे तौर पर माइकल जैक्सन की मौत के लिए ज़िम्मेदार है.

ऐनिस्थेटिक विशेषज्ञ का कहना था कि डॉक्टर मरे इस दवा के इस्तेमाल से पूरी तरह अनभिज्ञ थे. उन्होंने कहा कि जब माइकल जैक्सन ने सांस लेना बंद कर दिया तब डॉक्टर मरे को समझ में ही नही आ रहा था कि इस स्थिति का सामना कैसे किया जाए.

उन्होंने आपात सेवाएं बुलाने में भी देरी की.

डॉक्टर स्टीवन शफ़ेर ने अदालत को बताया, "मेरी जानकारी के मुताबिक माइकल जैक्सन के साथ जो हुआ वैसा पहले कभी और नहीं हुआ."

उन्होंने कहा कि डॉक्टर कोनराड मरे माइकल जैक्सन के आज्ञाकारी सेवक की तरह काम कर रहे थे ना कि एक डॉक्टर की तरह. उन्हें माइकल जैक्सन को प्रोपोफ़ोल लेने से रोकना चाहिए था.

मरीज़ की हाँ में हाँ मिलाने का काम डॉक्टर नहीं करते लेकिन डॉक्टर मरे ने यही काम किया.

यही नहीं, प्रोपोफ़ोल के सेवन के बाद डॉक्टर मरे को माइकल जैक्सन की तबीयत का मिनट दर मिनट ब्यौरा रखना चाहिए था. उनकी सेहत के रिकॉर्ड को न रखा जाना माइकल जैक्सन के अधिकारों का हनन है.

स्टीवन शफ़ेर ने मौत से पहले डॉक्टर मरे और माइकल जैक्सन के बीच बातचीत की भी आलोचना की.

संबंधित समाचार