गद्दाफ़ी,बेटे का शव मिस्राता के कोल्ड स्टोरेज में

गद्दाफ़ी
Image caption गद्दाफ़ी पकड़े जाने के तुरंत बाद जीवित थे.

लीबिया के पूर्व प्रशासक कर्नल गद्दाफ़ी के शव को मिस्राता के एक कोल्ड स्टोरेज में रखा गया है. लेकिन अब भी उनके दफ़न को लेकर तस्वीर साफ़ नहीं हो पाई है.

गद्दाफ़ी के पुत्र मुतस्सिम के शव को भी कोल्ड स्टोरेज में ही रखा गया है. मुतस्सिम के शरीर पर गोलियों के दो निशान हैं - एक गर्दन पर और एक छाती पर.

ऐसा माना जा रहा है कि गद्दाफ़ी के दूसरे पुत्र सैफ़ अल-इस्लाम सिर्त से भागने में कामयाब हो गए हैं.

लीबिया की अंतरिम सरकार ने इससे पहले कहा था कि सैफ़ अल-इस्लाम घायल हैं और उन्हें पकड़ लिया गया है लेकिन इस बात की कोई स्वतंत्र पुष्टि नहीं हो पाई है.

इस बीच दक्षिण अफ़्रीका के राष्ट्रपति जेकब ज़ूमा ने कहा है कि गद्दाफ़ी को मारा नहीं जाना चाहिए था बल्कि जीवित पकड़ कर उनपर मुक़दमा चलाया जाना चाहिए था.

जांच की मांग

इससे पहले संयुक्त राष्ट्र के मानवाधिकारों के लिए उच्चायुक्त ने कहा है कि कर्नल गद्दाफ़ी की मौत पर एक संपूर्ण जांच होनी चाहिए.

उच्चायुक्त नवी पिल्लै के एक प्रवक्ता ने मोबाइल फ़ोन ले गई गद्दाफ़ी के अंतिम क्षणों की तस्वीरों को बहुत ही विचलित करने वाला बताया है.

इन तस्वीरों में पकड़े जाने के बाद गद्दाफ़ी साफ़ तौर पर जीवित देख जा सकते हैं.

नवी पिल्लै के प्रवक्ता रुपर्ट कॉलविल ने जिनेवा में कहा, “गुरुवार को हुई गद्दाफ़ी मौत की परिस्थितियां साफ़ नहीं हैं. वो कैसे मरे, इस विषय पर चार या पांच मत हैं. कल जो कुछ हमने देखा उस बारे में एक प्रकार जांच होनी चाहिए. दो वीडियो सामने आए हैं और उन दोनों को अगर मिलाकर देखा जाए तो बेहद विचलित करने वाली तस्वीर उभरती है.”

लीबिया की अंतरिम सरकार ने इस बात से इंकार किया है कि गद्दाफ़ी को जानबूझ मारा गया है.

अंतरिम सरकार का कहना है कि गद्दाफ़ी अपने समर्थकों और सरकारी बलों के बीच हुई गोलीबारी के दौरान सिर पर गोली लगने से मरे हैं.

लीबिया में अधिकारी अगले कुछ घंटों के भीतर कर्नल गद्दाफ़ी को किसी अज्ञात स्थान पर गुपचुप तरीके से दफ़नाने की तैयारी कर रहे हैं.

त्रिपोली में बीबीसी संवाददाता के अनुसार अधिकारी शुक्रवार की सुबह तक ये तय नहीं कर पा रहे थे कि गद्दाफ़ी को कैसे और कहां दफ़नाया जाए.