'लीबिया से भाग सकते है सैफ़ अल इस्लाम'

सैफ़ अल इस्लाम इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption कर्नल गद्दाफ़ी के बाद उनके उत्तराधिकारी के तौर पर देखे जाने वाले सैफ़ अल इस्लाम पिछले कई महीनों से छुपते फिर रहे है.

अंतरराष्ट्रीय अपराध अदालत (आईसीसी) के प्रमुख अभियोजक लुईस मोरेनो ओकैंपो ने कहा है कि मोअम्मर गद्दाफ़ी के बेटे सैफ़ अल इस्लाम लीबिया से भागने की कोशिश कर सकते है.

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद को जारी किए गए वक्तव्य में लुईस मोरेनो ओकैंपो ने दूसरे देशों से सैफ़ अल इस्लाम की ऐसी किसी कोशिश को नाकाम करने की अपील की है.

अंतरराष्ट्रीय अपराध अदालत को 39 वर्षीय सैफ़ अल इस्लाम की युद्ध अपराधों से जुड़े मामलों में तलाश है. एक समय कर्नल गद्दाफ़ी के उत्तराधिकारी के तौर पर देखे जाने वाले सैफ़ अल इस्लाम पिछले कई महीनों से छिपते फिर रहे है.

लुईस मोरेनो ओकैंपो के मुताबिक़ आईसीसी नेटो और लीबिया की अंतरिम सरकार के अलावा गद्दाफ़ी समर्थक सैनिकों के ख़िलाफ़ लगे आरोपों की भी छानबीन कर रही है.

लुईस मोरेनो ओकैंपो के मुताबि़क़ अदालत सभी पक्षों पर लगे अपराध के आरोपों की निष्पक्ष जांच करेगी. आईसीसी कर्नल गद्दाफ़ी के मारे जाने के बाद से ही सैफ़ अल इस्लाम के आत्मसमर्पण के लिए मध्यस्थों से बातचीत कर रही है.

तैयारी

पिछले महीने मिली जानकारियों के मुताबिक़ सैफ़ अल इस्लाम लीबिया से सटे नीजेर के सीमावर्ती रेगिस्तान की ओर एक काफ़िले में जा रहे थे, जहां दूसरे गद्दाफ़ी समर्थक भी भागे है.

हालांकि अभी तक इन जानकारियों की पुष्टि नहीं हो पाई है. आईसीसी की ओर से सैफ़ अल इस्लाम को जून में जारी किए गए एक वारंट में उन पर हत्या और उत्पीड़न के आरोप लगाए गए हैं.

इस दस्तावेज़ के मुताबिक़ लीबिया के नागरिकों पर योजनाबद्ध तरीक़े से हमला करने में गद्दाफ़ी के सुरक्षाबलों के साथ ही सैफ़ अल इस्लाम की भी भूमिका रही है.

अंतरराष्ट्रीय अपराध अदालत को कर्नल गद्दाफ़ी के खुफ़िया विभाग के पूर्व प्रमुख़ अब्दुल्लाह अल सेनुसी की भी तलाश है.

लीबिया की अंतरिम सरकार ने भी कहा है कि वह अब्दुल्लाह अल सेनुसी और सैफ़ अल इस्लाम पर मुक़दमा चलाना चाहती है.

अंतरिम सरकार के सैनिकों ने गद्दाफ़ी और उनके समर्थकों को खदेड़ कर अगस्त में लीबिया की सत्ता का तख़्तापलट कर दिया था. अब एनटीसी के मुताबिक़ आठ महीनों के भीतर लीबिया में चुनाव करा लिए जाएंगे.

संबंधित समाचार