स्टीव जॉब्स के नाम का सर्वाधिक इस्तेमाल

स्टीव जॉब्स इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption नामों की सूची में स्टीव जॉब्स का नाम अलक़ायदा के चरमपंथी नेता ओसामा बिन लादेन से आगे रहा.

अँग्रेज़ी भाषा के इस्तेमाल के लिए किए गए वैश्विक सर्वेक्षण के मुताबिक़ साल 2011 में 'अरब स्प्रिंग' (अरब में विद्रोह) और 'रॉयल वेडिंग' (शाही शादी) के वाक्यांश का सबसे ज़्यादा इस्तेमाल किया गया, जबकि नामों में ऐपल के सह संस्थापक स्टीव जॉब्स का नाम सबसे ऊपर रहा.

टैक्सस स्थित ग्लोबल लैंग्वेज़ मॉनिटर का कहना है कि दुनिया में जारी अनिश्चतता को लेकर दो शब्दों का सबसे ज़्यादा इस्तेमाल किया गया था वे थे 'ऑकोपाई' चाहे वे 'इराक़' हो या 'वॉल स्ट्रिट'.

ग्लोबर लैंग्वेज़ मॉनिटर के अध्यक्ष पोल जेजे पैयेक का कहना है, ''हमने जिस आधार पर शब्दों को चयन किया है वे दुनिया में जारी राजनीतिक और आर्थिक अनिश्चतता को दर्शाते हैं, जिसमें ब्रिटेन में हुई शाही शादी और चीन के वैश्विक स्तर पर उभरने वाले शब्दों का शामिल होना भी एक अपवाद है.''

नामों की सूची में स्टीव जॉब्स का नाम अल क़ायदा नेता ओसामा बिन लादेन से आगे रहा.

सहायता

स्टीव जॉब्स अग्न्याशय या पैंक्रियस के कैंसर से जूझ रहे थे और उनका निधन 56 वर्ष की आयु में हुआ, तो वहीं पाकिस्तान के ऐबटावाद में अमरीका ने एक सैन्य अभियान में ओसामा बिन लादेन को मार दिया था.

शब्दों और वाक्यांशों को कंप्यूटर की मदद से चुना गया और वैश्विक स्तर पर इलेक्ट्रॉनिक मीडिया और इंटरनेट और सोशल नेटवर्किंग की सहायता भी ली गई.

मीडिया ने अरब देशों में विद्रोह के लिए 'अरब स्प्रिंग' का इस्तेमाल किया था.

पाँच सबसे ज़्यादा वाक्यांश, जिनका इस्तेमाल साल 2011 में किया गया वे थे....'एंगर और रेज' यानी गुस्सा और रोष. इस वाक्यांश ने दुनियाभर के लोगों की भावनाओं को दर्शाया तो वही 'क्लाइमेट चेंज' (जलवायु परिवर्तन) और 'द ग्रेट रिसेशन' (आर्थिक मंदी) कुछ ऐसे वाक्यांश थे जिन्हें भी सूची में जगह मिली.

संबंधित समाचार