सीरिया पर अरब लीग के नेताओं की आपात बैठक

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

अरब लीग के नेताओं ने सीरिया की स्थिति पर चर्चा के लिए शनिवार को मिस्र की राजधानी काहिरा में एक आपात बैठक बुलाई है.

अरब लीग के मुख्यालय में होने वाली इस बैठक में नेता पिछले सप्ताह सीरिया और अरब लीग के साथ हुए समझौते के लागू न हो पाने पर चर्चा करेंगें. साथ ही ये भी कि कैसे सीरिया में शांति बहाल की जा सकती है.

समझौते लागू न हो पाने की वजह से अरब लीग पर इस बात के लिए भारी दबाब है कि सीरिया को अरब लीग की सदस्यता से निलंबित कर दिया जाए.

समझौते के तहत सीरिया को सड़कों से टैंको को हटाना था और सरकार विरोधी प्रदर्शनकारियों के ख़िलाफ़ हिंसा रोकनी थी.

हिंसा में कमी नही

मानवाधिकारों पर नज़र रखने वाली संस्था ह्यूमन राइट्स वॉच का कहना है कि समझौते की घोषणा होने के बाद से भी सैकड़ों की तादाद में सरकार विरोधी प्रदर्शनकारी मारे जा चुके हैं.

सीरियाई सेना पर आरोप है कि वो होम्स शहर में अत्याचार और अवैध हत्याओं में शामिल है.

इस संस्था ने अरब लीग से सीरिया को अपनी सदस्यता से निलंबित करने की और वहाँ संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की कार्रवाई के समर्थन की अपील की है.

हांलाकि अरब लीग के देश भी इस मसले पर बटे हुए हैं.

वो इस बात को लेकर पशोपेश की स्थिति में हैं कि अरब लीग की सदस्यता से सीरिया को निलंबित किए जाने पर क्या कोई बदलाव होगा.

सीरिया की सरकार का दावा है कि वो इस शांति समझौते को लागू कर रही है. साथ ही उसने ये भी कहा है कि अरब लीग के शिष्ट मंडल का स्वागत करेगी.