विरोध के बाद बेनेटन ने पोप की तस्वीर हटाई

अनहेट प्रचार इमेज कॉपीरइट Benetton
Image caption 'अनहेट' प्रचार के इस अंदाज पर आपत्ति जताई गई है

वेटिकन की ओर से कड़े विरोध के बाद कपड़ा निर्माता कंपनी यूनाइटेड कलर्स ऑफ़ बेनेटन ने विवादों में घिरे अपने विज्ञापन अभियान से पोप बेनेडिक्ट की तस्वीर को हटा लिया है.

बेनेटन के विज्ञापन अभियान में पोप को मिस्र के इमाम अहमद मोहम्मद अल तय्यब को चूमते हुए दिखाया गया था.

यूनाइटेड कलर्स ऑफ़ बेनेटन ने बुधवार को 'अनहेट' नाम से विज्ञापन अभियान शुरू किया है, जिसमें दस से अधिक जाने-माने राजनीतिक और धार्मिक नेताओं को एक दूसरे का चुंबन लेते और गले लगाते दिखाया गया है.

ज़ाहिर तौर पर ये तस्वीर छेड़छाड़ करके बनाई गई हैं.

प्रचार और विरोध

वेटिकन ने इस अभियान का विरोध किया था. वेटिकन की ओर से कंपनी के ख़िलाफ़ क़ानूनी कार्रवाई करने की धमकी भी दी गई थी.

समाचार एजेंसी एपी को यूनाइटेड कलर्स ऑफ़ बेनेटन के प्रवक्ता ने बताया कि विरोध होने के बाद पोप की तस्वीर को हटा लिया गया है.

बेनेटन की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है, "हमें खेद है कि हमने पोप और इमाम की तस्वीरों का प्रयोग किया, इससे कई लोगों की भावनाएँ आहत हुई होंगीं."

यूनाइटेड कलर्स ऑफ़ बेनेटन ने बुधवार को 'अनहेट' अभियान शुरू किया है.

'अनहेट' अंग्रेज़ी के 'हेट' का विरुद्धार्थी शब्द है. जिसका अर्थ है, बैर या घृणा के ख़िलाफ़.

इस अभियान के तहत दर्जन भर जाने-माने राजनीतिक और धार्मिक नेताओं को नकली तस्वीरों में एक दूसरे को चूमते और गले लगाते दिखाया गया है.

इसके लिए उन दो लोगों को चुना गया है जो आमतौर पर एक दूसरे के ख़िलाफ़ हैं या माने जाते हैं.

पोप और इमाम की तस्वीर के अलावा अनहेट प्रचार में अमरीका के राष्ट्रपति बराक ओबामा को एक फर्ज़ी तस्वीर में वेनेज़ुएला के राष्ट्रपति ह्युगो चावेज़ को चूमते हुए दिखाया गया है.

एक अन्य तस्वीर में ओबामा को चीन के राष्ट्रपति हू जिंताओं को चूमते हुए दिखाया गया है.

एक अन्य नकली तस्वीर में इसराइल के प्रधानमंत्री बिन्यामिन नेतन्याहू को फ़लस्तीनी राष्ट्रपति महमूद अब्बास को चूमते हुए दिखाया गया है.

हाल ही में यूरो कर्ज़ संकट मामले में आपस में भिड़े फ्रांस के राष्ट्रपति निकोला सार्कोज़ी और जर्मनी के चांसलर एंगेला मर्केल को भी एक तस्वीर में चुंबन लेते हुए दिखाया गया है.

वही लंबे समय से दुश्मन हे दक्षिण और उत्तर कोरिया के शीर्ष नेता किम जॉंग इल और ली म्युंग बाक को भी एक दूसरे का चुंबन लेते हुए दिखाया गया है.

विवादित प्रचार से नाम

एक तरफ़ जहाँ 'अनहेट' प्रचार को विवादों का सामना करना पड़ रहा है, वहीं यूनाइटेड कलर्स ऑफ़ बेनेटन का कहना है कि यह सुलह की प्रतीकात्मक तस्वीरें है.

समाचार एजेंसी एएफ़पी के मुताबिक़ यूनाइटेड कलर्स ऑफ़ बेनेटन के उप प्रमुख एलेसैंड्रो बेनेटन ने कहा है, ''ये विज्ञापन 'सकारात्मक उकसावा' है जिसका उद्देश्य सहनशीलता की आदर्श स्थिति लोगो के सामने लाना है.''

अपने विज्ञापनों के ज़रिए लोगों को चकित करने का बेनेटन का ये प्रयास नया नहीं है.

इससे पहले वह मृत्युदंड पाए क़ैदियों, एक पादरी का चुंबन लेती नन और एड्स से मरते एक व्यक्ति की तस्वीरों का उपयोग विज्ञापनों में कर चुका है.

संबंधित समाचार