अमरीका में 'कब्ज़ा करो' प्रदर्शन, कई हिरासत में

'वॉल स्ट्रीट पर कब्ज़ा करो' प्रदर्शन
Image caption न्यूयॉर्क की अदालत ने आदेश सुनाया था कि शहर में प्रदर्शन तो हो सकते हैं लेकिन स्थायी शिविर नहीं बनाया जा सकता

अमरीका में 'वॉल स्ट्रीट पर कब्ज़ा करो' लहर के हज़ारों प्रदर्शनकारियों ने देश भर में प्रदर्शन किए हैं और न्यायॉर्क में उन्होंने ब्रुकलिन ब्रिज तक मार्च किया है.

कथित कॉर्पोरेट लोभ और पूँजीवाद से पैदा हो रही असमानता के ख़िलाफ़ इस आंदोलन के सदस्यों ने प्रदर्शनों के दो महीने पूरे होने पर ये गुरुवार को ये प्रदर्शन किए.

न्यूयॉर्क में इस दौरान 300 लोगों को हिरासत में लिया गया और अन्य शहरों में अनेक अन्य लोगों को भी हिरासत में लिया गया. न्यूयॉर्क में कुछ जगहों पर पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच झड़पें भी हुई हैं.

महत्वपूर्ण है कि जहाँ अमरीका में ये प्रदर्शन हो रहे हैं, वहीं क़र्ज़ संकट में घिरे यूरोपीय देशों - इटली, ग्रीस और चैक गणराज्य में हज़ारों लोगों ने सरकारी ख़र्च में कटौतियों के ख़िलाफ़ प्रदर्शन किए हैं.

रोम, मेड्रिड, एथिंस, बार्सिलोना, प्राग और कई अन्य शहरों में प्रदर्शन हुए हैं.

उधर लंदन में 'वॉल स्ट्रीट पर कब्ज़ा करो' लहर की ही तर्ज़ पर सेंट पॉल्स केथिड्रल पर जमा हुए प्रदर्शनकारियों के लिए वहाँ से अपना कैंप हटा लेने की अवधि ख़त्म हो गई है.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption अधिकारियों का कहना है कि अधिकतर जगहों को हिंसा की आशंका को देखते हुए खाली कराया गया

बुधवार को लंदन कॉरपोरेशन ने इन प्रदर्शनकारियों को नोटिस दिया था कि वे 24 घंटे में प्रदर्शन स्थल को खाली कर दें. लेकिन प्रदर्शनकारी स्थल खाली करने के लिए तैयार नहीं हैं और क़ानूनी कार्रवाई की तैयारी कर रहे हैं.

कई जगहों से शिविर हटाए

पिछले महीने जब न्यूयॉर्क में प्रदर्शनकारियों ने ब्रुकलिन ब्रिज तक मार्च करने की कोशिश की थी तब सैंकड़ों को गिरफ़्तार कर लिया गया था.

वॉशिंगटन में मौजूद बीबीसी संवाददाता का कहना है कि इस बार पुलिस ऐसा कुछ नहीं किया है.

कुछ छोटी-मोटी झड़पों को छोड़कर अमरीका में अधिकतर जगहों पर प्रदर्शन शांतिपूर्ण रहे हैं.

न्यूयॉर्क के मेयर माइकल ब्लूमबर्ग ने कहा है कि झड़पों में पाँच पुलिसकर्मी घायल हुए हैं.

प्रदर्शनकारियों में से एक पॉल निक ने समाचार एजेंसी एपी को बताया, "ये अहम क्षण हैं. ऐसा प्रतीत होता है कि इस आंदोलन को ख़त्म करने के ख़ासे प्रयास हो रहे हैं और मैं यहाँ इसलिए मौजूद हूँ ताकि ऐसा न हो."

हाल के दिनों में पुलिस ने अमरीका में कई जगहों - ऑकलैंड, बर्लिंगटन, वर्मांट से प्रदर्शनकारियों के शिविरों को हटाया है और प्रदर्शनकारियों को गिरफ़्तार किया है. लेकिन एटलांटा, जॉर्जिया, पोर्टलैंड, ऑरेगाऊं, सॉल्टलेक सिटी, ऊटा में शिविरों का हटाया जाना शांतिपूर्ण रहा है.

संबंधित समाचार