महिलाओं पर लगा पुरुषों के 'बलात्कार' का आरोप

ज़िंबाबवे महिलाएं इमेज कॉपीरइट d
Image caption कुछ पुरुषों का कहना है कि वे अब लिफ्ट नहीं लेते और बसों का इस्तेमाल करना पसंद करते हैं.

ज़िम्बाब्वे पुलिस को आशंका है कि देश में महिलाओं का ऐसा गैंग है जो पुरुषों का बलात्कार करता है. पुलिस के मुताबिक पुरुष के सीमन या वीर्य का इस्तेमाल शायद विभिन्न रीति रिवाज़ों में किया जाता है क्योंकि मान्यता है कि इससे समृद्धि आती है.

इस मामले में कोई गिरफ़्तारी करने में एक साल से भी ज़्यादा का समय लगा है. देश की राजधानी हरारे में ऐसे ही एक मामले में तीन महिलाओं के खिलाफ़ सुनवाई होगी जिसने पूरे देश को भौंचक्का कर दिया था.

मामले में कथित तौर पर एक पीड़ित ने राष्ट्रीय टेलीविज़न पर बताया है कि हरारे में उसे तीन महिलाओं ने लिफ्ट देने के बाद क्या किया था.

उन्होंने कहा, ''एक महिला ने मेरे मुँह पर पानी फेंका और फिर उन्होंने मुझे एक ऐसा इंजेक्शन दिया जिससे मेरे अंदर तेज़ कामुक इच्छाएं पैदा हो गईं. उन्होंने कार को रोका और तीनों ने मुझसे कंडोम का इस्तेमाल कर कई बार सेक्स किया. इसके बाद वे मुझे नग्न अवस्था में झाड़ियों में छोड़ कर चली गईं.''

पीड़ित ने बताया, ''वहाँ घास काटने आए कुछ लोगों ने पुलिस को बुलाकर मेरी मदद की. कामोत्तेजक दवा के असर को ख़त्म करने के लिए वह मुझे अस्पताल लेकर गए.''

क़ानून में प्रावधान नहीं

अनुचित और अश्लील तरीके से हमला करने के लिए इन महिलाओं के खिलाफ़ 17 आरोप लगाए गए हैं. ऐसा इसलिए क्योंकि ज़िम्बाबवे का क़ानून महिलाओं द्वारा पुरुषों के बलात्कार को नहीं मानता.

इन महिलाओं को कुछ दिन पहले हरारे से 275 किलोमीटर दक्षिण पश्चिम की ओर गवेरू के शहर में गिरफ्तार किया गया था. पुलिस ने उनकी कार से इस्तेमाल किए हुए 31 कंडोम भी बरामद किए थे.

हालांकि महिलाओं ने इन आरोपों को खारिज किया है और कहा है कि वे वेश्याएं हैं और वह इतनी व्यस्त थीं कि उनके पास कंडोमों को हटाने का समय नहीं था.

पुरुषों से बलात्कार की ख़बरों के बाद कुछ पुरुषों का कहना है कि वे अब लिफ्ट नहीं लेते और बसों का इस्तेमाल करना पसंद करते हैं.

पिछले महीने ज़मानत पर रिहा किए जाने के बाद भीड़ ने इन महिलाओं को धमकाया था. उनका कहना है कि वह घर पर रहने के लिए मजबूर हैं.

पुलिस के प्रवक्ता एन्ड्रू ने बीबीसी से कहा है कि उनका मानना है कि इस तरह के अपराधियों का नेटवर्क देश भर में फैला है.

ऐसा मानना है कि वीर्य का इस्तेमाल कुछ रीति रिवाज़ों के दौरान किया जाता है ताकि व्यापार में कामयाबी मिल सके. कहा जा रहा है कि शायद वीर्य को देश के बाहर भी बेचा जाता है.

संबंधित समाचार