मिल्क पाउडर में रेडियोधर्मी पदार्थ

इमेज कॉपीरइट AFP

जापान में मिल्क पाउडर बनाने वाली एक कंपनी के उत्पाद में रेडियोधर्मी सीज़्यिम पाया गया है. करीब नौ महीने पहले आई सुनामी और भूकंप में जापान का फ़ुकुशिमा परमाणु संयंत्र क्षतिग्रस्त हो गया था. तभी से विकिरण का ख़तरा जताया जा रहा है.

मेजी नाम की कंपनी बच्चों के लिए दूध-पाउडर बनाती है. कंपनी का कहना है कि वो चार लाख डिब्बे वापस ले रही है. ये उत्पाद केवल जापान में ही बेचा जाता है.

इस कंपनी की फ़ैक्ट्री फ़ुकुशिमा परमाणु संयंत्र के 320 किलोमीटर के दायरे में है.

परीक्षण में पाया गया कि प्रति किलो मिल्क पाउडर में 30.8 बेक्वीरल सीज़्यिम है.

हालांकि कंपनी का कहना है कि विकिरण का स्तर उस सीमा के अंदर है जितनी जापान सरकार ने तय की हुई है. कंपनी का मानना है कि सीज़्यिम उस समय मिल्क पाउडर में मिल गया होगा जब उसे सूखाया जा रहा था.

जापान में पिछले कुछ महीने से कई बार आशंका जताई जा चुकी है कि कुछ खाद्य पदार्थों में रेडियोधर्मी पदार्थ मिल गए हैं. अगस्त में गोमाँस और सितंबर में चावल की खेप भी सिज़्यिम होने के कारण रोक ली गई थी.

संबंधित समाचार