फ़िलीपींस में सामूहिक अंतिम संस्कार

इमेज कॉपीरइट AP

फ़िलीपींस में भीषण बाढ़ और तूफान से मारे गए लोगों का सामूहिक अंतिम संस्कार किया जा रहा है.

इलिगन शहर के स्वास्थय अधिकारियों का कहना है कि जिन शवों की पहचान नही की जा सकी हैं या फिर जिनके परिजनों का कोई पता नही है उनका अंतिम संस्कार किया जा रहा है.

राहत और बचाव कार्य अभी भी जारी है. लेकिन सड़कों के टूट जाने की वजह से बाढ़ प्रभावित भीतरी गांवों तक पहुचने में दिक्कतें आ रही हैं.

शुक्रवार देर रात आई इस बाढ़ में अब तक 650 से ज़्यादा लोग मारे जा चुके हैं और अभी भी आठ सौ से ज़्यादा लोग लापता हैं

फ़िलीपींस में अचनाक आई बाढ़ में फँसे या जीवित बचे लोगों की तलाश जारी है.

समुद्री जहाज़ मिंडनाओ द्वीप के आस-पास लोगों की तलाश कर रहे हैं जबकि सैनिक नदियों में लोगों को ढूँढने की कोशिश में लगे हैं.

अधिकारियों का कहना है कि बहुत से शव ऐसे हैं जिन्हें लेने के लिए कोई आगे नहीं आया है जिससे आशंका जताई जा रही है कि पूरे के पूरे परिवार बह गए हैं.

राष्ट्रीय आपदा काउंसिल के मुताबिक करीब 35 हज़ार लोग रविवार को बचाव केंद्रों में शरण लिए हुए हैं.

फ़िलीपींस रेड क्रॉस सोसाइटी का कहना है कि अब तक कम से कम 652 लोग मारे जा चुकें हैं और 808 लोग अभी भी लापता हैं.

रेड क्रॉस सोसाइटी की महासचिव गवेंडोलिन पैंग का कहना था, ''प्रभावित इलाक़ा इतना बड़ा और फैला हुआ है कि मुझे पूरा यक़ीन है कि राहतकर्मी हर जगह तक नहीं पुहंच पाए होंगे''.

एक ग्रामीण ने बताया है कि उसे सैलाब की तेज़ धार में लाशें ही लाशें देखीं. ग्रामीण का कहना था, "हमें यहाँ पर दो शव मिले, तीन और थोड़ी दूर पर दिख रहे थे. हम पास के गांव कैवेलीरो में अब भी शवों की तलाश कर रहे हैं."

वहीं बाढ़ की चपेट में आने से बची एक महिला का कहना था, "हमने छत पर चढ़कर अपनी जान बचाई. जब हम छत पर जाने के लिए छप्पर में सुराख़ तैयार करने की कोशिश कर रहे थे तो हमें बिजली कड़कती हुई दिख रही थी."

बारह घंटों में महीने भर की बारिश

इमेज कॉपीरइट Reuters

पूर्व कांग्रेस सदस्य आई हरनेनडेज़ ने बताया है कि वे कगआन डे ऑरो शहर में शुक्रवार देर रात अपने घर में थे जब उन्होंने ज़ोर-ज़ोर से आवाज़े सुनीं. उन्होंने बताया कि पानी एक घंटे से भी कम समय में 11 फ़ीट चढ़ गया और पानी घर की छत तक पहुँच गया था.

बचाव काम में लगभग 20 हज़ार सैनिक जुटे हुए हैं लेकिन अधिकारियों के मुताबिक़ पानी से भरी सड़कों और बिजली सप्लाई बंद होने से राहत कार्यों में दिक़्क़तें आ रहीं है.

राष्ट्रीय टीवी पर तबाही के दृश्य दिखाए जा रहे हैं, गलियों में कीचड़ है और मलबा भरा पड़ा है. कई घर नष्ट हो गए हैं.

अमरीकी विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन ने फ़िलीपींस को भेजे गए अपने शोक संदेश में कहा, ''इस त्रासदी का मुक़ाबला करने के लिए अमरीका फ़िलीपींस के अधिकारियों की हर संभव मदद के लिए हमेशा तैयार है''.

मौसम वैज्ञानियों का कहना है कि एक महीने में औसतन जितनी बारिश होती है वाशी तूफ़ान ने मात्र 12 घंटों में मिंडनाओ में उतना पानी भर दिया.

बीबीसी संवाददाता का कहना है कि अचानक आए तूफ़ान ने सबको हैरत में डाल दिया.

वैसे तो फ़िलीपींस में हर साल तूफ़ान आते हैं लेकिन आम तौर पर दक्षिणी हिस्से में स्थित मिंडनाओ इन तूफ़ानों से बच जाता है.

सरकारी मौसम विभाग के मुताबिक़ तूफ़ान वाशी 80 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ़्तार से चल रहा है और इसके फ़िलीपींस से दूर जाने के आसार हैं.

सितंबर में आए एक तूफ़ान में फ़िलीपींस में 100 से अधिक लोगों की मौत हो गई थी.

संबंधित समाचार