सीरिया: राष्ट्रपति असद के 18 समर्थक मारे गए

सीरिया में प्रदर्शन इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption सीरिया में सरकार विरोधी प्रदर्शनों में कोई कमी नहीं आ रही है.

सीरिया में मानवाधिकार संगठनों का कहना है कि सेना छोड़कर भागे सैनिकों ने राष्ट्रपति के समर्थन वाली सेना के 18 लोगों को मार दिया है.

'सीरियन ऑबज़रवेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स' नामक संस्था का कहना है कि छोड़कर भागने वाले सैनिक दक्षिणी शहर जासिम की चौकियों पर तैनात थे.

मंगलवार की सुबह उनपर एक पुलिस स्टेशन से गोलीबारी होने लगी. उन्होंने भी जवाबी फ़ायरिंग की जिसमें 18 लोग मारे गए.

इस बीच फ़्रांस के राष्ट्रपित निकोला सारकोज़ी ने सीरिया के राष्ट्रपति पर दमनकारी नीति अपनाने का आरोप लगाते हुए उनसे सत्ता छोड़ने की मांग की है.

सारकोज़ी का कहना था, ''राष्ट्रपति बशर अल-असद नरसंहार कर रहें हैं जिसने ना सिर्फ़ अरब दुनिया बल्कि फ़्रांस, यूरोप और तमाम दुनिया में नफ़रत और बग़ावत को हवा दी है.''

इस बीच अरब लीग सदस्य देशों के विदेश मंत्री इस शनिवार को बैठक करेंगें जिसमें वे सीरिया में मौजूद अरब लीग के पर्यवेक्षकों की शुरूआती रिपोर्ट की समीक्षा करेंगे.

इस आपातकालीन बैठक में इस बात पर भी विचार विमर्श किया जाएगा कि सीरिया में मौजूद अरब लीग पर्यवेक्षकों को वहां रहने दिया जाए या नहीं क्योंकि उनकी वहां मौजूदगी के बावजूद सीरियाई सेना ने प्रदर्शनकारियों के ख़िलाफ़ जारी हिंसा में कोई कमी नहीं की है.

सीरिया में शांति बहाल करने के लिए सीरिया और अरब लीग के बीच हुए समझौते का पालन हो रहा है या नहीं इसकी जांच के लिए अरब लीग ने 60 सदस्यों का एक पर्यवेक्षक दल पिछले सप्ताह सीरिया भेजा था.

संयुक्त राष्ट्र के अनुसार पिछले साल मार्च में शुरू हुए सरकार विरोधी प्रदर्शनों में अब तक लगभग 5000 लोग मारे गए हैं.

सरकार विरोधियों का कहना है कि अरब लीग के पर्यवेक्षकों के सीरिया जाने के बाद भी हिंसा में कोई कमी नहीं आई है क्योंकि उनके जाने के बाद से अब तक 390 लोग मारे गए हैं.

सोमवार को अरब लीग के महासचिव नबील अल-अरबी ने कहा था कि शांति समझौते के तहत सीरिया में शहरों से तो सेना ने भारी हथियार हटा लिए हैं लेकिन अभी भी सरकारी बंदूक़धारी नागरिकों के बीच मौजूद है और वो लगातार फ़ायरिंग कर रहें हैं.

लेकिन वहां मारे गए लोगों की संख्या और दूसरी जानकारियों की पुष्टि करना बहुत मुश्किल है क्योंकि ज़्यादातर विदेशी मीडिया को सीरिया में आज़ादी के साथ रिपोर्टिंग करने की इजाज़त नहीं है.

संबंधित समाचार