रेत में फँसा जहाज़, 4000 यात्री बचाए गए

दुर्घटनाग्रस्त पोत इमेज कॉपीरइट AP

इटली के पास एक यात्री पोत के दुर्घटनाग्रस्त होने से कम से कम छह लोगों की मौत हो गई, जबकि क़रीब चार हज़ार लोग जान बचाकर भाग निकले.

कोस्टा कॉनकॉर्डिया नाम के ये जहाज़ शुक्रवार को गिगलियो द्वीप के पास एक रेत की पट्टी पर जा चढ़ा जिसके बाद इस पर सवार कुछ यात्री लाइफ़ बोट की ओर भागे तो कुछ लोग तैरकर ज़मीन पर आ गए.

जहाज़ में आख़िरी बचे कुछ लोगों को हेलिकॉप्टर की मदद से बचाया जा रहा है.

जहाज़ पर सवार 3,200 यात्रियों में इतालवी, जर्मन, फ़्रेंच और ब्रितानी नागरिक शामिल हैं.

इसके अलावा जहाज़ में एक हज़ार चालक दल के सदस्य भी सवार थे.

भूमध्यसागर की यात्रा के लिए कोस्टा कॉनकॉर्डिया नाम का ये पोत शुक्रवार को रोम के पास स्थित सिविटावेचियो बंदरगाह से निकला था.

तेज़ आवाज़

समाचार एजेंसी एन्सा को एक यात्री ने कहा कि शुक्रवार शाम को जब यात्री खाना खा रहे थे तभी उन्हें एक तेज़ आवाज़ सुनाई दी और कहा गया कि जहाज़ में बिजली संबंधी कोई खराबी आ गई है.

यात्री लूसिआनो कास्त्रो ने कहा, ''हम खाना खा रहे थे तभी एक तेज़ धमाका सुनाई दिया और सभी बर्तन ज़मीन पर गिर गए.''

Image caption गिगलियो द्वीप के पास ये दुर्घटना हुई

स्थानीय कोस्टगार्ड के मुताबिक़ 290 मीटर लंबा ये जहाज़ रेत की पट्टी पर चढ़ गया जिसके बाद इसमें पानी भरने लगा.

चालक दल के एर सदस्य डिओडेटो ओरडोना ने बीबीसी को बताया, ''हमने आपात स्थिति की घोषणा की और फिर लोगों को बचाव स्थल तक ले जाने लगे. लाईफ़ बोट को खोलना मुश्किल होता है लेकिन लोग सही स्थान पर जाकर इन्हें खोलने में सफल रहे.''

ओरडोना के अनुसार जहाज़ पर सवार कुछ उम्रदराज़ लोग रोने भी लगे जबकि, कई क़रीब चार सौ मीटर तैर कर ज़मीन तक पहुंच गए.

बचाए गए लोगों को गिगलियो के होटल, स्कूलों और चर्चों में ठहराया गया है.

जहाज़ का संचालन करने वाली कंपनी का कहना है कि वो अभी तक पता नही लगा पाए है कि ये हादसा क्यों हुआ.

कंपनी ने यात्रियों के जान बचाने वाले कोस्टगार्ड्स और अन्य लोगों को आभार जताया है.

संबंधित समाचार