फ़्लोरिडा में मिट रोमनी की अहम जीत

मिट रोमनी इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption मिट रोमनी अमरीका में आर्थिक सुधारों का वादा कर रहे हैं

रिपब्लिकन पार्टी की ओर से राष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी के लिए हो रहे प्रायमरी चुनावों में मिट रोमनी ने फ़्लोरिडा प्रांत का अहम चुनाव जीत लिया है.

उन्होंने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी न्यूट गिंग्रिच को हराया.

अपने समर्थकों को संबोधित करते हुए मिट रोमनी ने अपनी जीत की घोषणा की है.

फ़्लोरिडा के चुनाव को अमरीका का प्रतिनिधि चुनाव माना जाता है और इसके नतीजों को अब तक जिन प्रांतों के चुनाव हुए हैं उन पर भारी माना जाता है.

रिपब्लिकन उम्मीदवारों में से जो अंतिम रुप से विजयी होगा वह राष्ट्रपति पद के लिए डेमोक्रेट प्रत्याशी बराक ओबामा के ख़िलाफ़ चुनाव लड़ेगा.

अमरीका में इसी साल नवंबर में राष्ट्रपति के चुनाव होने हैं.

आसान नहीं

मिट रोमनी ने अपनी जीत के बाद अपने समर्थकों को संबोधित करते हुए स्वीकार किया कि उनके और उनके प्रतिद्वंद्वी गिंग्रिच के बीच कड़वाहट थोड़ी ज़्यादा बढ़ गई है.

लेकिन उन्होंने कहा, "प्राइमरी के प्रचार आसान नहीं होते, और इस प्रतिस्पर्धात्मक प्राइमरी से हम विभाजित नहीं होंगे. ये हमें एक करेगा और राष्ट्रपति के चुनाव में हम जीतेंगे."

इससे पहले मिट रोमनी ने न्यू हैंपशर प्राइमरी के चुनाव जीते थे.

उन्होंने अर्थव्यवस्था और बेरोज़गारी पर राष्ट्रपति बराक ओबामा के रिकॉर्ड को चुनौती देते हुए कहा, "अब समय आ गया है जब आपको (ओबामा को) हट जाना चाहिए."

उन्होंने कहा, "मेरा नेतृत्व ओबामा युग को ख़त्म करेगा और अमरीका में समृद्धि का नया युग शुरु होगा."

उन्होंने जीत जाने पर बजट को संतुलित करने का वादा भी किया.

पू्र्व गवर्नर, 64 वर्षीय रोमनी हालांकि रिपब्लिकन की ओर से उम्मीदवारी की दौड़ में आगे चल रहे हैं लेकिन उन्हें पिछले हफ़्ते दक्षिण कैरोलाइना में क़रारी हार का सामना करना पड़ा था.

फ़्लोरिडा के चुनाव से पहले मिट रोमनी ने टेलीविज़न पर विज्ञापनों पर 1.4 करोड़ डॉलर खर्च किए लेकिन उनके प्रतिद्वंद्वी गिंग्रिच सिर्फ़ 30 लाख ही जुटा सके.

इन विज्ञापनों में गिंग्रिच पर ही निशाना साधा गया था.

संबंधित समाचार