ब्राज़ील का ट्विटर के ख़िलाफ़ मुक़दमा

इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption ब्राज़ील में कई लोग ट्विटर का इस्तेमाल पुलिस की नाक़ाबंदी से बचने के लिए कर रहे हैं

ब्राज़ील की सरकार ने माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर के ख़िलाफ़ मुक़दमा दायर किया है.

सरकार ट्विटर से मांग कर रही है कि वो ऐसे अकाउंट साइट से हटाए जो पुलिस की नाकेबंदी और चैकिंग की योजना के बारे में लोगों को पहले ही आगाह कर देते हैं. ये चैकिंग वाहनों की गति पर नज़र रखने के लिए होती है.

सरकार का कहना है कि इस वजह से शराब पीकर गाड़ी चलाने वालों और यातायात नियम तोड़ने पर नज़र रखना मुश्किल हो रहा है.

ट्विटर ने जनवरी में घोषणा की थी कि वो सरकार के आग्रह पर ऐसे संदेशों को हटा सकता है जिनसे स्थानीय क़ानूनों का उल्लंघन होता है.

शराब पीकर गाड़ी चलाने वालों के ख़िलाफ़ ब्राज़ील में तीन साल पहले कड़े क़ानून लागू किए गए थे. लेकिन ब्राज़ील में अब ट्विटर का इस्तेमाल लोग एक दूसरे को ये बताने के लिए कर रहे हैं कि पुलिस ने जांच के लिए कहां-कहां नाक़ाबंदी की है.

ट्विटर पर बड़ा नेटवर्क

अधिकारियों का कहना है कि नाक़ेबंदी से सड़कों को यातायात के लिए न केवल सुरक्षित बनाने में मदद मिलती है, बल्कि मादक पदार्थों के कारोबार जैसे अवैध धंधों पर भी लगाम कसी जाती है.

लेकिन ट्विटर पर ऐसे कई अकाउंट हैं जिनमें सड़कों पर नाकेबंदी और पुलिस की जांच की जानकारी साझा की जा रही है.

इनमें एक ऐसा भी एकाउंट है जो रियो डि जेनेरियो से संचालित होता है जिसके लगभग तीस लाख फ़ॉलोअर्स हैं.

सरकार का कहना है कि ट्विटर को इस तरह के सभी अकाउंट बंद करने चाहिए और यदि वो ऐसा नहीं करता है तो क़ानूनी दिशा-निर्देशों के उल्लंघन के लिए उसे हर दिन भारी ज़ुर्माना भरना होगा.

ब्राज़ील दुनिया के उन दस देशों में से एक है जहां सड़क हादसों में सबसे ज़्यादा लोग मारे जाते हैं.

संबंधित समाचार