रेड्डी के पिता को वीज़ा, तीन भारतीयों पर आरोप

 रविवार, 12 फ़रवरी, 2012 को 17:18 IST तक के समाचार
लंदन पुलिस

प्रवीण रेड्डी पर शुक्रवार रात चाकू से हमला हुआ था

लंदन में शुक्रवार रात जिस भारतीय छात्र पर चाकू से हमला हुआ था, उसकी हालत गंभीर बनी हुई है. इस बीच घायल छात्र 26 वर्षीय प्रवीण राव के पिता सुधाकर रेड्डी और चाचा माधव रेड्डी लंदन जाने के लिए हैदराबाद से चेन्नई होते हुए उड़ान भरने जा रहे हैं.

दोनों इस वक्त चेन्नई में हैं, जहां उन्हें सप्ताह अंत होने के बावजूद लंदन जाने के लिए वीज़ा मिल गया है.

तय कार्यक्रम के मुताबिक वो रविवार शाम एक अंतरराष्ट्रीय उड़ान से लंदन के लिए रवाना होंगे.

बीबीसी संवाददाता स्वाती अर्जुन से हुई बातचीत के दौरान सुधाकर रेड्डी के रिश्तेदार अच्युत राव ने हैदराबाद स्थित उनके घर से ये जानकारी दी है.

अच्युत राव ने बीबीसी को बताया कि विदेश मंत्री एसएम कृष्णा ने ख़ुद इस मामले में पहल करते हुए सुधाकर रेड्डी और उनके भाई को वीज़ा दिलवाने में मदद की ताकि वे जल्द से जल्द लंदन पहुंच सकें.

उधर प्रवीण पर हुए हमले के बारे में पता चलने पर प्रवीण की मां सदमें में हैं.

तीन भारतीयों के ख़िलाफ़ आरोप

इस बीच लंदन बिज़नेस स्कूल में पढ़ाई कर रहे भारतीय छात्र प्रवीण रेड्डी का इलाज लंदन के न्यूहैम अस्पताल में चल रहा है.

अनुज बिदवे

दिसंबर महीने में अनुज बिदवे की भी कुछ अज्ञात लोगों ने लंदन में गोली मारकर हत्या कर दी थी.

प्रवीण की देखभाल लंदन में रह रहे हैदराबाद निवासी काशीपति कोंडा कर रहे हैं जो लगातार परिवार के संपर्क में हैं और प्रवीण की हालत की जानकारी दे रहे हैं.

उधर न्यूहैम हॉस्पिटल के चिकित्सकों का कहना है कि वो प्रवीण की हालत की पूरी जानकारी उनके परिवार के किसी सदस्य के पहुंचने पर ही देंगे. आईसीयू में किसी को जाने की अनुमति नहीं है.

लंदन की पुलिस ने रविवार को बीबीसी संवाददाता अपूर्व कृष्ण से बातचीत के दौरान पुष्टि की कि उन्हें ऐसा नहीं लगता कि पूर्वी लंदन की इस घटना के पीछे नस्ली घृणा एक मक़सद था.

लंदन की पुलिस के मुताबिक वे घायल छात्र के रिश्तेदारों के संपर्क में हैं.

लंदन में रह रहे तीन भारतीयों के ख़िलाफ़ हत्या का प्रयास करने के मामले के तहत आरोप दायर किए गए हैं.

लंदन पुलिस के एक बयान के अनुसार पुलिस हिरासत में लिए गए इन तीन लोगों के नाम हैं - 25 वर्षीय अमरेश्वर अरावा, 25 वर्षीय साई किशोर बारगुरी और 23 वर्षीय निशांथ. उन्हें सोमवार को टेम्स मेजिस्ट्रेट्स कोर्ट में पेश किया जाएगा.

"विदेश मंत्री एसएम कृष्णा ने ख़ुद इस मामले में पहल करते हुए सुधाकर रेड्डी और उनके भाई को वीज़ा दिलवाने में मदद की ताकि वे जल्द से जल्द लंदन पहुंच सकें"

अच्युत राव, प्रवीण रेड्डी के रिश्तेदार, हैदराबाद

बीबीसी संवाददाता ने पुलिस के हवाले से कहा है कि पहले 22 से 27 वर्ष की उम्र के 11 लोगों को गिरफ़्तार किया गया था लेकिन सात को बाद में ज़मानत मिल गई और एक व्यक्ति को बिना कार्रवाई के छोड़ दिया गया.

'दोस्त की पार्टी में गए थे'

उधर प्रवीण रेड्डी के रिश्तेदार अच्युत राव ने कहा कि परिवार को मिली जानकारी के मुताबिक प्रवीण रेड्डी पर हमला शुक्रवार रात उस वक्त हुआ जब वे एक दोस्त 'चरण' की जन्मदिन की पार्टी के लिए उन्हीं के फ़्लैट में थे.

अच्युत राव ने कहा कि उन्हें मिली जानकारी के अनुसार प्रवीण रेड्डी की चरण के साथ किसी बात पर कहासुनी भी हुई थी.

प्रवीण वर्ष 2010 में लंदन एमबीए की पढ़ाई करने गए थे और चरण से उनकी जानपहचान वहां जाने के पहले से है. अच्युत राव के अनुसार चरण और प्रवीण सहपाठी थे.

अनुज बिदवे की हत्या

इससे पहले 26 दिसंबर को सैलफ़र्ड में 23 वर्षीय अनुज बिदवे की गोलीमार कर हत्या कर दी गई थी. लेकिन शायद उस मामले को इस ताज़ा घटना से जोड़कर देखना सही नहीं होगा.

अनुज को उस समय बहुत नज़दीक से गोली मार दी गई थी जब वे अपने दोस्तों के साथ टहल रहे थे.

तब पुलिस ने कहा था कि यह घृणा से प्रेरित हमला हो सकता है.

इसके बाद पुलिस ने 10 जनवरी को मैनचेस्टर सिटी सेंटर में 20 वर्षीय भारतीय छात्र गुरदीप हेयर की मौत की पुष्टि की थी.

दो जनवरी से लापता गुरदीप का शव एक नदी से मिला था, हालांकि उनकी हत्या के कोई संकेत नहीं मिले थे.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

इसी विषय पर और पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.