कई पुतिन विरोधी प्रदर्शनकारी हिरासत में

 मंगलवार, 6 मार्च, 2012 को 04:31 IST तक के समाचार
अलेक्सी नवानली

प्रदर्शनकारी रविवार को हुए राष्ट्रपति चुनावों में धांधलियों के आरोप लगा रहे हैं.

रूस में पुलिस ने व्लादिमीर पुतिन के राष्ट्रपति चुने जाने के बाद हो रहे प्रदर्शनों के दौरान 550 लोगों को हिरासत में लिया है.

इन प्रदर्शनों की अगुवाई कर रहे मशहूर रूसी ब्लॉगर अलेक्सी नवालनी को भी थोड़ी देर के लिए हिरासत में लेने के बाद छोड़ दिया गया है.

पुलिस ने सैंट पीटर्सबर्ग प्रदर्शन कर रहे 800 में से 300 लोगों को और मॉस्को में नवालनी समेत 250 लोग को हिरासत में लिया गया है.

व्लादिमीर पुतिन के राष्ट्रपति चुने जाने को दुनिया ने भले ही स्वीकार कर लिया हो लेकिन पर्यवेक्षकों ने इस चुनाव पर कई सवाल उठाए हैं.

अमरीका और यूरोपीय संघ ने रूसी सरकार से अनियमितताओं के आरोपों की जांच को कहा है.

हिरासत में लिए जाने से पहले अलेक्सी नवालनी और एक अन्य नेता सर्गेई उदालत्सोव ने 14 से 20 हज़ार लोगों की रैली को संबोधित किया.

उन्होंने कहा कि रूस पर ‘चोर और धोखेबाज़’ शासन कर रहे हैं और प्रदर्शनकारी उन्हें रोक सकते हैं.

उधर पुतिन समर्थक भी शांत नहीं बैठे हैं. रूसी सरकार के मुख्यालय क्रेमलिन के बाहर क़रीब 14 हज़ार पुतिन समर्थक जमा हुए और नारेबाज़ी की.

इस रैली को रूस की सत्ताधारी यूनाइटेड रशिया पार्टी के एक वरिष्ठ अधिकारी आंद्रेई इसायेव ने इन शब्दों के साथ शूरू किया, ‘रूस, पुतिन, विजय’

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.