मुर्दाघर की मेज़ पर छह दिन तक सड़ता रहा शव

गार्डनर
Image caption डेविड गार्डनर की 1 मार्च को अस्पताल में लीवर और गुर्दे की बीमारी के कारण मौत हो गई थी

ब्रिटेन के एक अस्पताल में 59 साल के एक व्यक्ति का शव उनकी मौत के छह दिनों बाद तक अस्पताल के मुर्दाघर की मेज़ पर सड़ने के लिए छोड़ दिया गया क्योंकि वो मुर्दाघर के फ्रिज में नहीं आ पा रहा था.

डेविड गार्डनर टेटबरी के रहने वाले थे और उन्हें किडनी और लीवर की बीमारी के कारण ग्लोसिस्टरशायर रॉयल अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां एक मार्च को उनकी मौत हो गई थी.

डेविड के घरवालों का कहना है कि डेविड का शरीर काफी भारी-भरकम होने के कारण उसे एक टेबल पर ही खुला छोड़ दिया गया था.

बाद में उनके शव को एक ताबूत में रखकर अंत्येष्टी करने की योजना भी इसलिए छोड़ दी गई क्योंकि तब तक उनका शरीर काफी ज्य़ादा सड़ चुका था.

अस्पताल के प्रवक्ता के अनुसार पूरे मामले की जांच करवाई जा रही है.

बहुत गलत हुआ

डेविड गार्डनर की पत्नी एल्सी का कहना है कि उनका परिवार गार्डनर को अच्छी तरह से विदा करना चाहता था, लेकिन उनके मृत शरीर की ख़राब हालत के कारण ऐसा नहीं कर सके.

एल्सी मानती हैं कि वो और उनके पति दोनों ही एक दूसरे से बेहद प्यार करते थे.

एल्सी आगे कहती हैं,''ऐसे में भला मैं अपने पति को बिना अलविदा कहे कैसे उनका अंतिम संस्कार कर सकती हूं, ये बिल्कुल गलत होगा.''

अब डेविड गार्डनर का अंतिम संस्कार अगले मंगलवार को किया जाएगा.

ग्लोसिस्टरशायर रॉयल अस्पताल के एनएचएस फाउंडेशन ट्रस्ट के एक प्रवक्ता का कहना है,''हम गार्डनर के परिवार के साथ लगातार संपर्क में है. अस्पताल का शोक समूह और अन्य कर्मचारी उनकी चिंताओं को समझते हैं और पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं कि आखिर उस दिन क्या हुआ था.''

संबंधित समाचार