'सुपारी किलर' ने दिया इंटरनेट पर विज्ञापन

इंटरनेट इमेज कॉपीरइट other
Image caption पुलिस ये पता लगाने में लगी है कि ये विज्ञापन सही था या केवल मसखरी.

इंडोनेशिया की पुलिस ने एक ऐसे शख्स को गिरफ्तार किया है जिसपर शक है कि वो अलग-अलग वेबसाइट्स के ज़रिए पैसे लेकर हत्याएं करने का विज्ञापन दे रहा था.

इस व्यक्ति की ओर से बनाई गई वेबसाइट्स पर लिखा था कि ''वे पेशेवर हत्यारों की सेवा मुहैया कराते हैं. ये हत्यारे ज़हर खिलाकर, गोली मारकर और सड़क दुर्घटनाओं के ज़रिए लोगों की हत्या कर सकते हैं.''

विज्ञापन में इस बात का भी ज़िक्र था कि रसूख वाले किन लोगों की अब तक हत्या की गई और ये हत्याएं किस तरह से की गईं. विज्ञापन देने वाले शख्स ने पुलिस और सेना में अपने बड़े संपर्कों का भी हवाला दिया था.

विज्ञापन देने वाले शख्स की उम्र 30 साल की है और उसे जकार्ता के जावा शहर के पश्चिमी इलाके से गिरफ्तार किया गया है.

सच या मसख़री

पुलिस के प्रवक्ता मार्टिन सितोपुल ने बीबीसी संवाददाता को बताया कि इस आदमी की गिरफ्तारी एक ईमेल पते की मदद से की गई जो एक वेबसाइट से जुड़ा हुआ था.

सितोपुल के अनुसार,''हमें कुछ ही समय पहले जानकारी मिली थी और छानबीन के बाद हमने पाया कि ये साइट वर्ष 2008 से चलाई जा रही हैं.''

''साइट में दिए गए ईमेल पते और फोन नंबर के ज़रिए हम इस आदमी तक पहुंचने में कामयाब रहे, हम मामले की छानबीन कर रहे हैं.''

पुलिस अभी तक ये पता नहीं लगा पायी है कि ये विज्ञापन सही था या इसे केवल एक मसखरी के तौर पर लगाया गया था.

पुलिस की कार्रवाई के बाद इस वेबसाइट के मूल साइट 'वर्डप्रेस' ने उस वेबपेज को हटा दिया है जिसमें ये कहा गया है कि उसकी सेवा के शर्तों को तोड़ा गया है.

इसके अलावा एक और साइट indobelati.blogspot.com पर भी रोक लगा दी गई है जिसमें सुपारी लेकर हत्या करने का प्रस्ताव रखा गया था.

संबंधित समाचार