जापान ने 'प्रलय की उस घड़ी' को याद किया

जापान इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption मृत्कों को मोमबत्तियां जलाकर श्रद्धांजलि दी गईं.

जापान में पिछले साल आए भूकंप और सुनामी की बरसी के अवसर पर देश भर में शोक सभाओं का आयोजन हुआ और स्थानीय समय 14:46, जब भूकंप आया था, पर नागरिकों ने एक मिनट का मौन रखा.

मुख्य सभा टोक्यो के राष्ट्रीय थिएटर में आयोजित की गई थी जिसमें जापान के सम्राट अकिहितो, महारानी मिचिको और प्रधानमंत्री योशिहिको नाडा शामिल हुए.

जापान में मार्च 2011 में आए भूकंप और सुनामी में तकरीबन 20,000 लोगों की मौत हो गई थी, या वो लापता हैं.

जबसे भूकंप की तीव्रता मापे जाने की शुरूआत हुई है, तबसे जापान में आया ये सबसे बड़ा भूकंप था. इसकी तीव्रता नौ आंकी गई थी.

सुबह से ही लोग उन स्थलों पर पहुंचना शुरू हो गए थे जहां कभी मकान हुआ करते थे जिनके बच गए ढांचो पर उन्होंने फुल अर्पित किए, अगरबत्तियां जलाई और उन लोगों को याद किया जो इस त्रासदी के शिकार हो गए थे.

ठीक उस घड़ी जब भूंकप ने जापान की धरती को हिला दिया था, सायरन बजा, और जो जहां था वहीं रूककर उसने एक मिनट का मौन ग्रहण किया.

सबक

इस मौके पर जापान के प्रधानमंत्री योशिहिको नोडा ने लोगों को भरोसा दिलाया कि वे पूर्व की गलतियों से ज़रूर सबक लेंगे.

उन्होंने कहा, ''हम इस तबाही से मिली सीख को आने वाले पीढ़ियों के साथ बाटेंगे. हम एक द्वीप में रहते हैं जहां हमें कई तरह के प्राकृतिक विपदाओं का सामना करना पड़ता है और इन सबके बीच हमारा मकसद है इन हादसों से मिलने वाली सीख के ज़रिए ऐसे उपाय करने की जिससे हम आगे इस तरह की तबाही से बच सकें.''

सम्राट अकिहितो ने देशवासियों को संबोधित करते हुए कहा,''इस बुरे वक्त में कई दूसरे देशों ने हमें सांत्वना और मदद की पेशकश की है. इस कठिन समय में मैं खासतौर पर जापान के लोगों ने जिस तरह से एक दूसरे की मदद की उसकी तारीफ करना चाहूंगा. मुझे कई दूसरे देशों के लोगों ने कहा कि वे यहां के लोगों की आपसी समझ और एकजुटता से काफी प्रभावित हुए हैं. मैं अपने सभी देशवासियों का धन्यवाद करता हूं.''

जापान की क्योडो समाचार एजेंसी के अनुसार राजधानी टोक्यो और आसपास के इलाकों में कुछ देर के लिए ट्रेनें भी बंद रखी गई.

सुनामी के कारण फुकुशिमा परमाणु संयंत्र विकिरण लीक होने की समस्या पैदा हो गई थी जिस कारण जापान की परमाणु नीतियों पर भी दोबारा सोचने की ज़रुरत पर ज़ोर दिया गया.

संबंधित समाचार