इतिहास के पन्नों में 14 मार्च

इतिहास के पन्नों को पलट कर देखें तो पाएगें कि इस दिन कई महत्वपूर्ण घटनाएं घटी थी. साल 1960 में इस दिन ब्रिटेन के एक रेडियो टेलिस्कोप ने सूदूर अंतरिक्ष में संपर्क साधने का रिकॉर्ड बनाया था. साल 1958 में इसी दिन मोनाको के युवराज अलबर्ट का जन्म हुआ था.

1960 : ब्रितानी रेडियो टेलिस्कोप ने इतिहास बनाया

Image caption यह रेडिओ टेलिस्कोप अपने किस्म के दुनिया में सबसे बड़े रेडियो टेलीस्कोपों में से एक है.

ब्रिटेन के चेशायर में मौजूद एक पृथ्वी से 407000 मील दूर अन्तरिक्ष में मौजूद एक अमरीकी उपग्रह से समपर्क बना कर विश्व रिकॉर्ड बनाया था. इसके पहले का रिकॉर्ड 290000 मील दूर एक उपग्रह से संपर्क करने का रिकॉर्ड सोवियत संघ के एक रेडियो टेलिस्कोप था. सोवियत संघ के उपग्रह ल्युनिक तृतीय ने चाँद के पुष्ठ्भाग की तस्वीर ली थी.

ब्रितानी रेडियो टेलिस्कोप ने अमरीका के उपग्रह पायनियर पंचम से से सम्पर्क किया. यह अमरीकी उपग्रह सूर्य की परिक्रमा कर रहा था. यह टेलिस्कोप पृथ्वी और शुक्र के बीच में सूर्य के चारों तरफ परिक्रमा कर रहा था. इस रेडियो टेलिस्कोप को सबसे पहले 11 मार्च को तब इस्तेमाल में लाया गया था जब यह उपग्रह फ्लोरिडा से रॉकेट के ज़रिये सूर्य की तरफ छोड़ा गया था.

छोड़ने के फ़ौरन बाद इस रेडियो टेलिस्कोप के ज़रिये इस उपग्रह को पृथ्वी से लाखों मील दूर इसके रॉकेट से अलग होने के आदेश दीए गए थे.

उपग्रह को रॉकेट से अलग करने के बाद इस रेडियो टेलिस्कोप ने उपग्रह के ट्रांसमीटर को कुछ देर के लिए बंद कर दिया था जिससे उसकी ऊर्जा को संगृहीत करने में मदद मिली थी. एक सप्ताह के भीतर यह उपग्रह पृथ्वी से दस लाख मील से ज़्यादा आगे चला गया. इस उपग्रह को सौर ऊर्जा से रीचार्ज होने वाली बैटरियों से चलाया गया.

साल 1957 में बना यह रेडियो टेलिस्कोप अपने किस्म के दुनिया में सबसे बड़े रेडियो टेलीस्कोपों में से एक है. काम शुरू करने के दस साल बाद तक कोई इतना बड़ा रेडियो टेलिस्कोप पृथ्वी पर नहीं बना था.

1958 : मोनाको के युवराज अलबर्ट का जन्म

Image caption मोनाको का शाही परिवार

इसी दिन मोनाको में शाही परिवार राजकुमारी ग्रेस ने एक पुत्र को जन्म दिया था. बेटा होने की ख़ुशी में मोनाको में 101 तोपों की सलामी दी गई. हालांकि दुनिया भर से जमा हुए पत्रकारों को बच्चे के जन्म की खबर देने के लिए बड़े व्यापक इंतजाम किए गए थे लेकिन सब कुछ धरा का धरा रह गया. जैसे ही युवराज का जन्म हुआ महल में काम करने वाली एक महिला ने चिल्ला चिल्ला कर पत्रकारों को बता दिया कि लड़का हुआ है.

स्थानीय समायानुसार लड़के का जन्म ठीक 11 बजे हुआ और उसका नाम अलबर्ट रखा गया. यूं तो इसके एक साल पहले शाही खानदान में राजकुमारी कैरोलीना का जन्म हो चुका था लेकिन बेटा होने चलते राजकुमार अलबर्ट अपने सिंहासन के उत्तराधिकारी बन गए.

राजकुमार अलबर्ट के जन्म का अर्थ यह भी था कि मोनाको को फ़्रांस में नहीं मिला लिया जाएगा. फ़्रांस और मोनाको के बीच 1918 में हुई एक संधि के अनुसार अगर मोनाको के राजवंश में उत्तराधिकारी नहीं जन्म लेता है तो मोनाको की रियासत को फ़्रांस में समाहित कर लिया जाएगा.

जुलाई 2005 में अपने पिता की मृत्यु के बाद राजकुमार अल्बर्ट मोनाको के शासक बने.

संबंधित समाचार