मुलायम ने दिए मध्यावधि चुनावों के संकेत

मुलायम सिंह यादव
Image caption मुलायम सिंह यादव समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं.

बजट, लोकपाल और भ्रष्टाचार जैसे कई मुद्दों पर अपने ही सहयोगियों से घिरी यूपीए सरकार को बाहर से समर्थन दे रही समाजवादी पार्टी के मुखिया मुलयाम सिंह यादव ने मध्यावधि चुनावों का राग छेड़कर यूपीए के लिए राजनीतिक संकट को गहरा दिया है.

समाजवादी नेता राम मनोहर लोहिया की 102वीं जन्मतिथि पर पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह ने कहा है कि पार्टी कार्यकर्ता अपना काम बखूबी करें क्योंकि आमचुनाव कभी भी हो सकते हैं.

उन्होंने कहा, ''मैं अखिलेश से कहूंगा कि वो सभी पार्टी कार्यकर्ताओं को विधानसभा चुनावों का हमारा घोषणापत्र उपलब्ध कराए और आप उसे पढ़ें. हमें अपने सभी वादे अगले छह महीनों से एक साल के भीतर पूरे करने होंगे. एक साल से ज्यादा समय नहीं लगना चाहिए क्योंकि 2014 में होने वाले आम चुनाव कभी भी हो सकते हैं. हमारी सरकारी को जल्द फैसले लेने होंगे और जल्दी से जल्दी काम करना होगा.''

कैबिनेट का हिस्सा?

मुलायम सिंह ने कहा कि वो भले ही प्रदेश के मुख्यमंत्री नहीं बने हैं लेकिन पार्टी और प्रदेश सरकार की सभी गतिविधियों पर उनकी नज़र है.

इस बारे में लगातार कयास लगाए जा रहे हैं कि अपने बेटे को मुख्यमंत्री बनाने के बाद 72 वर्षीय मुलायम सिंह यादव केंद्र सरकार की कैबिनेट का हिस्सा बन सकते हैं.

पिछले हफ्ते ‘नेशनल कांउटर टेररिजम सेंटर’ यानि राष्ट्रीय आतंकवाद निरोधी केंद्र के मुद्दे पर संसद में हुए मतदान के दौरान समाजवादी पार्टी ने सरकार के पक्ष में मतदान किया था.

लोकसभा में समाजवादी पार्टी के 22 सदस्य हैं जबकि राज्य सभा में उसके 19 सदस्य हैं.

संबंधित समाचार