स्ट्रॉस-कान पर अब वेश्यावृत्ति गिरोह से जुड़ने का मुकदमा

स्ट्रॉस-कान इमेज कॉपीरइट a
Image caption आरोप है कि स्ट्रॉस-कान ने पेरिस और वॉशिंगटन में सेक्स पार्टियों में हिस्सा लिया था.

अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष के पूर्व प्रमुख और एक समय फ्रांस के राष्ट्रपति की उम्मीदवारी की दौड़ में सबसे आगे चल रहे डोमिनीक स्ट्रॉस-कान पर एक वेश्यावृत्ति गिरोह से जुड़े होने के मामले में मुकदमा चलाया जाएगा.

उत्तरी फ्रांस के लील शहर में मजिस्ट्रेटों ने डोमिनीक स्ट्रॉस-कान से लंबी पूछताछ के बाद उन पर यह आरोप लगाए हैं.

अधिकारियों को शक है कि डोमिनीक स्ट्रॉस-कान ने जिन पार्टियों में शामिल होने की बात स्वीकार की है उनमे एक गिरोह के द्वारा कथित रूप से वेश्याओं को भेजा गया था.

हालांकि स्ट्रॉस-कान का कहना है कि उन्हें इस बात का पता नहीं था कि यह महिलाएं वेश्यावृत्ति से संबंध रखती थीं और पैसों के लिए काम करती थीं.

पुलिस ने अपनी जाँच के दौरान कई वेश्याओं से पूछताछ की है और उन्होंने स्वीकार किया है कि उन्होंने स्ट्रॉस-कान के साथ शारीरिक संबंध बनाए.

पूछताछ होने से पहले स्ट्रॉस-कान के वकील हेनरी लेक्लर्क ने फ्रांसिसी टेलीविज़न पर उनका बचाव करते हुए कहा था, "मैं चुनौती देता हूँ कि आप किसी निर्वस्त्र वेश्या और किसी और निर्वस्त्र महिला के बीच अंतर करके बताएँ."

'कोई आभास नहीं'

लील शहर में फ्रांस के तीन जजों के समक्ष एक ऐसी बड़ी जांच है जिसे 'कार्ल्टन अफेयर' के नाम से जाना जाने लगा है.

मामले का यह नाम इसलिए पड़ गया है क्योंकि कथित रूप से यह 'सेक्स पार्टियाँ' इसी नाम के एक होटल में हुई थी.

फ़्रांसीसी जज इस बात की भी जांच कर रहे हैं कि क्या डोमिनीक स्ट्रॉस-कान के कुछ सहयोगी भी वेश्यावृत्ति के एक गिरोह से वास्ता रखते हैं कि नहीं.

इस बीच डोमिनीक स्ट्रॉस-कान के एक वकील रिचर्ड मलका ने कहा है, "स्ट्रॉस-कान इस बात को दोहराते हैं कि वह निर्दोष हैं और उन्हें इस बात की जानकारी कभी नहीं थी कि जिन महिलाओं से वह मिले थे वह किसी वेश्यावृत्ति गिरोह से जुडी हो सकती हैं."

आरोप है कि स्ट्रॉस-कान ने पेरिस और वॉशिंगटन में वर्ष 2010 के अंत में और 2011 की शुरुआत में सेक्स पार्टियों में हिस्सा लिया था.

संबंधित समाचार