छात्रों के लिए खुला 'मुफ़्त' विश्वविद्यालय

इमेज कॉपीरइट PA

भारत हो या ब्रिटेन या फिर कोई और देश.... ये शिकायत आम रहती है कि कॉलेजों या विश्वविद्यालयों में फीस बहुत ज्यादा है.

अब ऐसे ही छात्रों के लिए इंग्लैंड में कुछ शिक्षक एक नई यूनिवर्सिटी खोल रहे हैं. इसकी खासियत ये रहेगी कि विद्यार्थी यहाँ मुफ्त में शिक्षा हासिल कर सकते हैं.

इन शिक्षाविदों में यूनिवर्सिटी ऑफ लिंकन के लेक्चरार शामिल हैं. इनका कहना है कि उच्च शिक्षा का व्यवसायिकरण हो गया है और सबका मकसद मुनाफा कमाना है.

खुद को सोशल साइंस सेंटर का नाम देने वाले ये 40 शिक्षाविद बीए, एमए और पीएचडी के स्तर के छात्रों को पढ़ाएँगे. संभावित छात्रों के लिए ओपन डे भी रखा जाएगा.

प्रोफेसर रिचर्ड कीबल कहते हैं, "छात्रों पर वित्तीय बोझ को लेकर हम सब चिंतित हैं. हम दिखाना चाहते हैं कि उच्च शिक्षा को चलाने के वैकल्पिक साधन भी हैं. हमारे सहयोगी मुफ्त में अपना समय देंगे. यहाँ का मूल्य मुनाफा कमाना नहीं होगा बल्कि लोकतांत्रिक और आपसी हिस्सेदारी पर आधारित होंगे."

ये यूनिवर्सिटी सितंबर में खुलेगी. सभी छात्र पार्ट-टाइम होंगे. उन्हें शाम को और सप्ताहांत को पढ़ाया जाएगा.

खर्चा पूरा करने के लिए छात्रों से कहा जाएगा कि वे स्वेच्छा से हर महीने कुछ पैसे दें. ऐसी उन्हीं छात्रों को कहा जाएगा जिनके पास नौकरी होगी. छात्र एक घंटे में कितना पैसा कमाते हैं उसे हिसाब से वे पैसे दे सकते हैं.

यहाँ पर कोर्स खत्म होने के बाद आधिकारिक तौर पर डिग्री नहीं दी जाएगी. लेकिन पढ़ाई उसी स्तर की होगी जैसी कि मुख्यधारा के विश्वविद्यालयों में होती है.

संबंधित समाचार