ओबामा के दौरे के बाद हमला, सात मारे गए

अफगानिस्तान में ओबामा इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption ओबामा ने बगराम सैन्य अड्डे से अमरीकियों को संबोधित किया

अफगानिस्तान में अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा की अचानक हुई यात्रा के कुछ ही देर बाद काबुल में विदेशियों को निशाना बनाते हुए हमला हुआ है जिसमें कम से कम सात लोग मारे गए हैं और 17 अन्य घायल हुए हैं.

ओबामा ने बगराम सैन्य अड्डे से अमरीकियों को संबोधित किया और कहा कि अल कायदा की हार अब पहुँच के भीतर है.

अधिकारियों के अनुसार काबुल के पूर्व में जलालाबाद रोड इलाके में एक ऐसी परिसर को निशाना बनाया गया जहाँ पश्चिमी देशों के लोग रहते हैं.

वहाँ एक आत्मघाती कार बम धमाका हुआ जिसके तत्काल बाद गोलीबारी होने लगी. कुछ अन्य इलाकों में भी धमाके हुए हैं.

पत्रकारों को भेजे एक टेक्स्ट मेसेज में तालिबान के एक प्रवक्ता ने दावा किया है कि वे इस हमले के लिए जिम्मेदार हैं.

'कुछ घंटे चला हमला खत्म'

अफगानिस्तान के शिक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता अमानुल्ला इमान ने बीबीसी को बताया कि एक धमाका काबुल स्कूल के पास हुआ.

हताहतों में स्कूली बच्चे शामिल हैं.

धमाके बाद ग्रेनेड के धमाके हुए और भीषण गोलीबारी होने लगी. ये गोलीबारी लगभग दो घंटे तक चलती रही.

सुरक्षा अधिकारियों ने बीबीसी को पहले सूचित किया था कि एक इमारत में दो या तीन हमलावर छिपकर गोलीबारी कर रहे थे. फिलहाल इस बारे में कोई ताजा जानकारी नहीं मिली है लेकिन गोलीबारी खत्म हो गई है.

अफगानिस्तान में मौजूद अंतरराष्ट्रीय सहायता सुरक्षा बल (आईसैफ) के मुताबिक, "विद्रोहियों के एक छोटे गुट ने काबुल में तड़के एक निजी परिसर पर हमला किया. इसमें आईसैफ का कोई जवान घायल नहीं हुआ लेकिन एक बार फिर बच्चों समेत आम नागरिक हताहत हुए हैं. अफगान सुरक्षा बलों ने जवाबी कार्रवाई कर इस हमले को खत्म कर दिया है."

आईसैफ के प्रवक्ता जनरल कार्सटेन जेकबसन ने इसे तालिबान की हताश और नाकाम कोशिश बताया है.

संबंधित समाचार