फिर नाकाम हुई अंडरवियर बम की साजिश

मुतालब इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption 2009 में अब्दुल मुतालब बम के साथ विमान पर सवार हो गए थे

अमरीकी अधिकारियों ने कहा है कि उन्होंने 2009 के 'अंडरवियर बम' जैसी एक और साजिश को नाकाम कर दिया है. उनके मुताबिक यह साजिश यमन में अल कायदा ने रची.

अमरीका की संघीय जांच एजेंसी एफबीआई का कहना है कि विस्फोटक उपकरण की तकनीकी और फोरेंसिक जांच हो रही है.

खबरों के मुताबिक जब इस साजिश को नाकाम किया गया तो उस वक्त न तो कोई हमले का लक्ष्य चुना गया और न ही विमान का टिकट खरीदा गया.

संभावित हमलावर के बारे में भी कोई संकेत नहीं दिया गया है.

'पहले ओबामा को बताया'

एफबीआई ने अपने बयान में कहा, “विदेशों में हमारे सुरक्षा और खुफिया साझेदारों के बीच नजदीकी तालमेल के जरिए उन्नत विस्फोटक उपकरण (आईईडी) को बरामद किया गया है जिसका मकसद विदेश में आंतकवादी हमला करना था.”

व्हाइट हाउस की प्रवक्ता कैटलिन है़डेन ने कहा कि पिछले महीने नाकाम की गई इस साजिश के बारे में सबसे पहले अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा को बताया गया. उनके मुताबिक इस उपकरण से कोई खतरा नहीं है.

2009 में एक संभावित आत्मघाती हमलावर उमर फारूक अब्दुल मुतालब क्रिसमस के मौके पर अमरीका के डेट्रोइड शहर को जाने वाली उडा़न पर सवार हो गए थे और उन्होंने अपने अंडरवियर में बम छिपा कर रखा हुआ था, लेकिन समय रहते उनकी कोशिश को नाकाम कर दिया गया.

एक अमरीकी खुफिया अधिकारी ने बताया कि ताजा अंडरवियर बम साजिश में 2009 जैसे विस्फोट उपकरण का उन्नत वर्जन इस्तेमाल किया गया.

संबंधित समाचार