ढाई सौ साल का हुआ सैंडविच

Image caption सैंडविच इंग्लैंड के एक कस्बे का भी नाम है

जब लगभग ढाई सौ वर्ष पहले, जॉन मोंटेगू ने ब्रेड के दो टुकड़ों के बीच गाय का मांस रखकर खाने के लिए मांगा, तब शायद उन्होंने सोचा भी नहीं होगा कि एक दिन ऐसा भी आएगा जब सैंडविच का नाम और जायका सारी दुनिया की जबान पर चढ जाएगा.

ब्रिटिश सैंडविच एसोसिएशन की मानें तो किस्सा ये है कि फोर्थ अर्ल ऑफ सैंडविच जॉन मोंटेगू अपने दोस्तों के बैठक ताश खेल रहे थे. तभी उन्होंने अपने सेवकों को हुक्म दिया कि उनके और उनके दोस्तों के लिए इस तरह का सैंडविच पेश किया जाए.

सैंडविच शब्द का पहला लिखित दस्तावेज वर्ष 1762 का मिलता है और इस लिहाज से सैंडविच ढाई सौ साल का हो गया है.

जन्मदिन और उत्सव

सैंडविच की 250वीं सालगिरह को उत्सव की शक्ल देने वालों में से एक स्टीव लेसलेट कहते हैं, ''सर एडवर्ड मोंटेगू ने इसे सैंडविच नाम इसलिए दिया क्योंकि उस समय इंग्लैंड में सैंडविच नामक एक मुख्य बंदरगाह था.''

वे कहते हैं, ''वे इसे पोर्ट्समाउथ भी कह सकते थे, तब हम आज पोर्ट्समाउथ खा रहे होते, लेकिन उन्होंने इसे सैंडविच नाम दिया.''

इंग्लैंड के पूर्वी केन्ट शहर में सप्ताह के आखिरी दिनों में सैंडविच बनाने की प्रतियोगिताएं हो रही हैं.

इसी तरह के एक कार्यक्रम की आयोजन मैंडी विल्किंस कहती हैं, ''सैंडविच एक वैश्विक खाद्य पदार्थ है और सैंडविच हमारे कस्बे का नाम भी है. ये एक छोटा सा शहर है जहां मध्ययुगीन इमारतों की भरमार है.''

ब्रिटिश सैंडविच एसोसिएशन के मुताबिक, सैंडविच से जुड़े उद्योग ने ब्रिटेन में तीन लाख से ज्यादा लोगों को रोजगार दिया है और कारोबार की दृष्टि से ये उद्योग छह बिलियन पौंड से ज्यादा मूल्य का है.

संबंधित समाचार