वेबकैम अपराध में भारतीय छात्र को सजा

धरुन रवि इमेज कॉपीरइट AP
Image caption रवि भारतीय नागरिक हैं, लेकिन उन्होंने अपना ज्यादातर समय न्यू जर्सी में गुजारा है

भारत में पैदा हुए एक अमरिकी छात्र को अपने साथी की वेबकैम से गुप्त फिल्म बनाने के लिए 30 दिन की जेल की सजा सुनाई गई है.

20 वर्षीय धरुन रवि ने अपने साथी टाइलर क्लेमेंटी की एक फिल्म बनाई थी जिसमें टाइलर एक दूसरे पुरुष का चुंबन लेते हुए दिख रहे थे.

इस वीडियो के बाद क्लेमेंटी ने आत्महत्या कर ली थी. ये वाकया सितंबर 2010 का है.

न्यूजर्सी स्टेट विश्वविद्यालय में पढ़ने वाले धरुन को कम से कम 10 साल की सज़ा हो सकती थी.

न्यायाधीश ने आदेश दिया कि भारत में पैदा हुए रवि को वापस उनके देश नहीं भेजा जाए.

जेल के बाद रवि को 300 घंटे समुदाय की सेवा को भी देने होंगे.

न्यायाधीश ग्लेन बर्मन ने कहा कि उन्होंने एक बार भी रवि को माफ़ी मांगते हुए नहीं सुना और रवि ने जो काम किया बिल्कुल सही नहीं था.

ग्लेन बर्मन ने ये भी कहा कि रवि के कृत्य का आधार क्लेमेंटी से नफ़रत नहीं था.

जज बर्मन ने कहा कि अपने आदेश में उन्होंने रवि को वापस भारत भेजने की बात इसलिए नहीं की क्योंकि क्लेमेंटी के साथ फिल्माए गए उनके साथी ने ऐसा ही करने का अनुरोध किया था.

रवि भारतीय नागरिक हैं, लेकिन उन्होंने अपना ज्यादातर समय न्यू जर्सी में गुजारा है.

सजा सुनाए जाने से पहले टाइलर क्लेमेंटी के पिता जो ने एक वक्तव्य में रवि के कृत्य को ‘शर्मनाक’ बताया.

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption आत्महत्या से पहले क्लिमेंटी ने अपने फेसबुक पेज पर लिखा, “जीडब्ल्यू पुल से कूद रहा हूँ. माफ करना”

उन्होंने कहा कि उनके बेटा ‘उदार’ और ‘दयालु’ था और वो निर्दयी व्यवहार का शिकार हुआ.

इस वक्तव्य के जारी होने के दौरान उनकी पत्नी जेन रो रही थीं. उन्होंने कहा कि वो अपने बेटे के बहुत नजदीक थीं.

इस दौरान रवि भी रोते हुए दिखे.

मीडिया की भूमिका

उनकी माँ सबिता रवि ने एक वक्तव्य में कहा कि उन्होंने मीडिया को अपने बेटे की जिंदगी को चीर-फाड़ करते हुए देखा है.

रवि के वकील स्टीवन एल्टमैन का कहना था कि इस मामले को किसी हत्या के मुकदमे के तौर पर देखा जा रहा है और रवि को समलैंगिक-विरोधी के तौर पर पेश किया जा रहा है.

जज बर्मन ने आदेश दिया कि रवि करीब पाँच लाख रुपए एक सामुदायिक संस्था को दें जो अपराध पीड़ितों की मदद करती है.

अभियोग पक्ष का कहना था कि रवि के बनाए वेबकैम वीडियो को करीब छह छात्रों ने देखा और रवि ने इस बारे में ट्वीट भी किया.

कुछ दिनों के बाद क्लिमेंटी एक पुल से कूद कर आत्महत्या कर ली.

उन्होंने अपने फेसबुक पेज पर लिखा, “जीडब्ल्यू पुल से कूद रहा हूँ. माफ करना.”

अभियोग पक्ष का कहना था कि रवि को समलैंगिकों के साथ समस्या थी लेकिन रवि के वकील के मुताबिक ये एक बच्चे का बचपना था, और कुछ नहीं.

संबंधित समाचार