'जुबली वीकेंड' की छुट्टी

इमेज कॉपीरइट
Image caption हीरक जयंती बहुत शानौ-शौकत से मनाने की तैयारी है.

ब्रिटेन महारानी एलिजाबेथ के सिंहासन पर आसीन होने के साठ वर्ष पूरे होने के अवसर पर बहुत शानौ-शौकत से हीरक जयंती मना रहा है.

ब्रिटेन के लोगों के लिए ये छुट्टियां मनाने का अच्छा मौका है जहां इस हफ्ते सड़कों, ट्रेनों और विमानों में अच्छी खासी भीड़ होने का अनुमान है.

ट्रेवल एजेंसियों ने अनुमान लगाया है कि लगभग चालीस लाख लोग ब्रिटेन में ही घूमने जाने वाले हैं जबकि बीस लाख लोग भ्रमण के लिए विदेश जा रहे हैं.

जो लोग लंदन जा रहे हैं, उनकी नजर हीरक जयंती समारोहों पर होगी. इसे ध्यान रखते हुए ट्रेनों में डिब्बों की संख्या बढ़ाई गई है.

वहीं हीथ्रो हवाई-अड्डे से इस हफ्ते चार लाख से ज्यादा लोगों के गुजरने की उम्मीद है.

सजेगी टेम्स नदी

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption तीन जून को महारानी एलिजाबेथ के शासन के साठ वर्ष पूरे हो रहे हैं.

डायमंड जुबली उत्सव के दौरान ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ और उनके पति एडिबर्ग के राजकुमार फिलिप फूलों से सजी नौका, द स्पिरिट ऑफ चार्टवेल में सवार होकर शाही बागीचे की तरफ से आएंगे.

कम से कम आठ विशेष रॉयल जुबली घंटियों को नदी के उपर तैरते हुए एक नाव की टॉवर में लगाया जाएगा.

इनमें से सबसे बड़ी घंटी को एलिजाबेथ कहा जाता है और इसका वजन करीब 50 किलो है. अन्य घंटियों के नाम राजशाही परिवार के अन्य सदस्यों राजकुमार फिलिप, चार्ल्स, एंड्रयु, विलीयम और हेनरी पर होगा.

एक समय में ब्रिटेन में एक जगह से दूसरी जगह तक सामान पहुंचाने का काम करने वाली करीब 60 मालवाहक जहाज 3 जून को टेम्स नदी पर यात्रा करेंगी और इस समारोह का हिस्सा बनेंगी.

इन जहाजों का इस्तेमाल बड़े मालवाहक जहाजों से समुद्र तट तक सामान पहुंचाने के लिए होता था.

आयोजन में शामिल करने के लिए देशभर की नौका क्लबों से 60 मोटरबोट को मंगवाया गया है.

इनमें खास है, शेकन नॉट स्टर्ड नाम की नाव जिसे जेम्स बॉन्ड सीरीज की फिल्म द वर्ल्ड इज नॉट एनफ के, शुरुआती दृश्य में फिल्माया गया था.

संबंधित समाचार