मुबारक को स्ट्रोक की खबर, हालत 'नाजुक'

इमेज कॉपीरइट none

मिस्र में सत्ताधारी सैन्य परिषद के खिलाफ हजारों लोग तहरीर चौक पर प्रदर्शन के लिए इकट्ठा हुए हैं. परिषद ने खुद को नए अधिकार देने का फैसला किया है.

मुसलिम ब्रदरहुड ने सत्तारूढ़ सैन्य परिषद के नई शक्तियां हासिल कर लेने के खिलाफ पूरे मिस्र में प्रदर्शन करने का आह्वाहन किया है.

इस बीच खबरें हैं कि मिस्र के पूर्व राष्ट्रपति होस्नी मुबारक को स्ट्रोक हुआ है और उनकी हालत काफी नाजुक है. ये तक कहा जा रहा है कि वे मौत के करीब हैं.

सरकारी मीडिया के मुताबिक मुबारक को जेल में स्ट्रोक हुआ. कुछ रिपोर्टें तो ये भी कह रही हैं कि उनके दिल ने काम करना बंद कर दिया है और उपकरणों के जरिए उसे दोबारा शुरु किया. अधिकारियों का कहना है कि मुबारक को सेना के अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

बीबीसी संवाददाता जॉन लेन के मुताबिक होस्नी मुबारक की सेहत से जुड़ी किसी भी खबर को मिस्र के लोग संदेह भरी नजर से देख रहे हैं क्योंकि पूर्व में ये खबरें गलत साबित हुई हैं और कभी कभी उन रिपोर्टों का गलत मकसद भी होता है.

लेकिन इस बार खबरें पहले के मुकाबले विश्वस्त सूत्रों से आ रही हैं. बीबीसी संवाददाता के अनुसार मुबारक की बिगड़ती सेहत का समाचार ऐसे समय आ रहा है जब राष्ट्रपति चुनाव में जीत के दावों की खबरें आ रही हैं.

मुस्लिम ब्रदरहुड ने कहा है कि उनका उम्मीदवार मोहम्मद मुर्सी जीता है लेकिन विरोधी अहमद शफीक से जुड़े लोगों का कहना है कि वे आगे चल रहे हैं. कुछ विदेशी पर्यवेक्षकों को आशंका है कि चुनाव में अंतिम क्षणों में धाँधली की कोशिश हो सकती है.

संबंधित समाचार