अमरीका में एशियाई प्रवासी सबसे कामयाब

अमरीका में एशियाई लोग
Image caption अमरीका में एशियाई लोग ज्यादा सुर्खियों में नहीं रहते, लेकिन वे बेहद कामयाब हैं.

एक नए सर्वेक्षण में पता चला है कि अमरीका जाने वाले एशियाई प्रवासी इस समय वहां सबसे तेजी से बढ़ता हुआ समूह बन गया है.

पिउ रिसर्च सेंटर के सर्वेक्षण में पाया गया है कि एशियाई प्रवासी अपेक्षाकृत ज्यादा पढ़े-लिखे हैं और अमरीका में दूसरे देशों के लोगों की तुलना में ज्यादा सफल हैं.

सर्वेक्षण की रिपोर्ट का कहना है कि इमीग्रेशन यानी आप्रवसान ही है जो अमरीका को मौजूदा शक्ल देता है. इस प्रक्रिया में एशियाई लोग सबसे तेजी से बढ़ता समुदाय है.

ये रिपोर्ट पिछले साल तैयार की गई थी और इसमें कहा गया है कि अमरीका में बसे एशियाई लोगों की उतनी ज्यादा चर्चा नहीं होती लेकिन अन्य लोगों के मुकाबले वे कहीं तेजी से बढ़ रहे हैं.

कामयाबी की इबारत

पचास साल पहले एशियाई-अमरीकियों की तादाद एक प्रतिशत से भी कम थी. लेकिन आज ये लोग कुल आबादी का लगभग छह प्रतिशत हैं और इनमें सबसे ज्यादा चीन, फिलीपींस, भारत, वियतनाम, कोरिया और जापान के लोग हैं.

करीब सौ साल पहले ये अल्प-प्रशिक्षित मजदूर होते थे. अमरीका की आप्रवासन नीति में बदलाव के बाद प्रशिक्षित श्रमिक और निवेशकर्ता वहां जाने में रुचि दिखाने लगे.

आज स्थिति ये है कि एशियाई प्रवासी अन्य देशों के लोगों से कहीं ज्यादा शिक्षित, सफल और आशावादी हैं. परिवार के साथ उनका मजबूत जुड़ाव है और वे कठिन परिश्रम में विश्वास रखते हैं.

ये लोग राष्ट्रपति बराक ओबामा से बेहद प्रभावित हैं. वैसे इनमें डेमोक्रेटिक और रिपब्लिकन दोनों ही पार्टियों के समर्थक हैं. अमरीकी एशियाई लोग ज्यादातर पश्चिमी इलाके में रहते हैं.

लेकिन इनकी दास्तान में सब कुछ ठीक ठाक नहीं है. कोरियाई, वियतनामी और चीनी अमरीकी लोगों में आम लोगों की तुलना में ज्यादा गरीबी है.

रिपोर्ट के मुताबिक, एशियाई लोगों ने सफलता की ऐसी इबारत लिख दी है जिसे पार करना इनके बच्चों के लिए आसान नहीं होगा.

संबंधित समाचार