लंदन: चरमपंथ निरोधक अभियान में छह गिरफ्तार

इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption लंदन में पुलिस ने छह संदिग्ध लोगों को गिरफ्तार किया है

लंदन में चरमपंथी घटनाओं को अंजाम देने की साजिश के संदेह में पाँच पुरुषों और एक महिला को गिरफ्तार किया है.

ऐसा माना जा रहा है कि ये सभी लोग उस साजिश में शामिल थे जिसे कुछ इस्लामी चरमपंथी अंजाम देने की योजना बना रहे थे.

हालांकि पुलिस का कहना है कि इस गिरफ्तारी का लंदन ओलंपिक से कोई लेना-देना नहीं है.

'अहम गिरफ्तारियाँ'

बीबीसी के गृह मामलों के संवाददाता डैनी शॉ के मुताबिक सुरक्षाबलों ने लंदन में हुई गिरफ्तारियों को काफी अहम बताया है.

लेकिन पुलिस ने ये भी कहा है कि ऐसा नहीं लगता कि ये लोग तत्काल किसी धमाके की योजना बना रहे थे.

गुरुवार को पुलिस जन सुरक्षा के तहत तलाशी अभियान चला रही थी.

गिरफ्तार किए गए सभी लोगों को दक्षिण पूर्वी लंदन के पुलिस स्टेशन में हिरासत में रखा गया है.

खतरे का स्तर

ब्रिटेन में चरमपंथी खतरे का स्तर 'सब्स्टेंशियल' है और इन गिरफ्तारियों के बाद भी उसमें कोई परिवर्तन नहीं किया गया है.

'सब्स्टेंशियल' का मतलब है- चरमपंथी हमले की "बड़ी संभावना". इससे ऊपर दो स्तर और होते हैं- 'सीवियर' यानी हमले की बड़ी आशंका और दूसरा स्तर होता है 'क्रिटिकल' यानी हमले की तुरंत आशंका.

बीबीसी संवाददाता के मुताबिक जितने भी लोग गिरफ्तार हुए हैं उनमें से यदि सभी नहीं तो ज्यादातर ब्रिटेन के नागरिक हैं.

इन लोगों पर साजिश में शामिल होने, तैयारी करने या फिर बहकावे में आकर साथ देने का संदेह है.

इनमें पश्चिमी लंदन के अलग-अलग रिहायशी इलाकों से गिरफ्तार किए गए 21 वर्षीय एक पुरुष और 30 वर्षीय महिला भी शामिल हैं.

पुलिस के अनुसार, 29 वर्षीय एक व्यक्ति को पश्चिमी लंदन की एक सड़क ईलिंग स्ट्रीट से पकड़ा गया जबकि बाकी तीन लोग पूर्वी लंदन के रिहायशी इलाकों से पकड़े गए. इनकी उम्र 26, 18 और 24 साल है.

संबंधित समाचार