मिस्र: इस्लामी सांसद अश्लीलता फैलाने के दोषी

इमेज कॉपीरइट none
Image caption सांसद को एक छात्रा के साथ यौन संबंध बनाने और एक पुलिसकर्मी के साथ दुर्व्यवहार के लिए अठ्ठारह महीनों की सजा सुनाई गई है.

मिस्र की एक अदालत ने देश के एक कट्टर इस्लामी सांसद को कार में यौन संबंध बनाकर सार्वजनिक शालीनता का उल्लंघन करने का दोषी पाया है.

इस मामले से मिस्र के कट्टर इस्लामी गुट सलाफी की साख को करारा झटका पहुंचा है.

सलाफी अब तक मांग करते आए है कि जिन महिलाओं और पुरूषों के बीच रिश्तेदारी नहीं हैं, वे एक दूसरे से दूरी बनाकर रहें.

सांसद अली वानिस को एक माह पहले एक छात्रा के साथ यौन संबंध बनाने और एक पुलिसकर्मी के साथ दुर्व्यवहार के लिए 18 महीनों की सजा सुनाई गई है.

अली वानिस मिस्र के पूर्व शासक होस्नी मुबारक की सत्ता के बाद गठित पहली संसद में ‘नूर’ पार्टी के सांसद थे.

'कट्टर इस्लामी'

समाचार एजेंसी एएफपी के अनुसार, पुलिस अधिकारियों ने कहा कि पिछले महीने अली वानिस को एक खेत के किनारे की सड़क पर एक कार में पाया गया था.

एएफपी ने पुलिस अधिकारियों के हवाले से कहा कि जब वे कार के पास पहुंचे तो एक महिला और अली वनीस आपत्तिजनक अवस्था में पाए गए थे.

अली वनीस ने इन आरोपों का खंडन किया है. अदालत की सुनवाइयों में वनीस मौजूद नहीं थे, लिहाजा उन्हें फिर से सुनवाई का मौका दिया गया है.

वनीस के साथ पाई गई महिला पिछले करीब एक माह से जेल में है और उन्हें छह माह की सजा सुनाई गई है.

संबंधित समाचार