जुर्म कोच ने किया, सज़ा टीम को मिली

इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption पेनस्टेट यूनिवर्सिटी फुटबॉल टीम ने प्रतिबंधों और जुर्माने को स्वीकार कर लिया है

अमरीका की जानीमानी 'पेन स्टेट यूनिवर्सिटी' की लोकप्रिय फ़ुटबॉल टीम पर छह करोड़ डॉलर का जुर्माना लगाया गया है क्योंकि टीम के एक पूर्व कोच ने बच्चों के साथ यौन-दुर्व्यवहार किया था.

कोच की इस हरकत की वजह से टीम पर अगले चार साल के लिए प्रतिबंध भी लगा दिया गया है. इसके साथ ही टीम से वे सभी ख़िताब भी वापस ले लिए जाएंगे जो उसने वर्ष 1998 से वर्ष 2011 के दौरान जीते थे.

अमरीका में फ़ुटबॉल टीमों को चलाने वाली संस्था नेशनल कॉलेजिएट एथलीट एसोसिएशन (एनसीएए) ने सुधार के लिए इस सज़ा को ज़रूरी बताया है.

भारी जुर्माना

पेनस्टेट यूनिवर्सिटी फुटबॉल टीम के पूर्व कोच जैरी सेंडस्की को दस लड़कों का 15 वर्षों तक यौन शोषण करने का दोषी पाया गया है.

जैरी सेंडस्की को अब अपना बाकी जीवन जेल की सलाखों के पीछे बिताना पड़ सकता है. उन्हें सज़ा सुनाना बाक़ी है.

एनसीएए के अध्यक्ष मार्क इमर्ट का कहना है, ''फुटबॉल को अब कभी पढ़ाई-लिखाई से ज्यादा तरजीह नहीं मिलेगी, सांस्कृ़तिक बदलाव के लक्ष्यों को दर्शाने के लिए ये प्रतिबंध ज़रूरी थे.''

एनसीएए का कहना है कि ये जुर्माना उतना ही है जितना पेनस्टेट फुटबॉल टीम का सालाना बजट है.

जुर्माने की इस रक़म से एक ऐसा कोष बनाया जाएगा जिसका मक़सद बच्चों को यौन दुर्व्यवहार से बचाना और पीड़ित बच्चों की मदद करना है.

पेनस्टेट के अध्यक्ष रॉडनी एरिकसन ने एक बयान में कहा है कि वो इस जुर्माने और प्रतिबंधों को स्वीकार करते है.

संबंधित समाचार