लौट के 'सोती' घर को आई...

 शुक्रवार, 24 अगस्त, 2012 को 01:29 IST तक के समाचार

चार्ल्स ड गॉल हवाई अड्डे पर किसी ने नोटिस ही किया कि प्लेन में एक महिला यात्री सोई हुई है.

दरअसल ये मामला है फ्रांस की पैट्रिस क्रिस्टीन अहमद का जो पेरिस जाने के लिए पाकिस्तान से विमान में सवार तो हुई लेकिन सोते रह जाने की वजह से विमान के साथ ही लाहौर वापस लौट आई.

पाकिस्तान इंटरनेश्नल एयरलाइंस इस बात की पड़ताल कर रहा है कि आखिर ढाई घंटे तक पेरिस हवाई अड्डे पर विमान के खड़े रहने के बावजूद वहाँ के स्टाफ से ये चूक कैसे हो गई कि उसे पता ही नही चला कि विमान में एक महिला यात्री अभी भी मौजूद है.

जब इस महिला की नींद टूटी तो विमान पाकिस्तान वापसी के रास्ते में था.

हांलाकि बाद में पाकिस्तान इंटरनेश्नल एयरलाइंस ने श्रीमती अहमद के वापस पेरिस जाने की व्यवस्था कर दी.

कहा जा रहा है कि जिस भी व्यक्ति की ये गलती है उसे अतिरिक्त टिकट का किरया भरना होगा.

श्रीमती अहमद के पति पाकिस्तानी नागरिक हैं और वो मंगलवार की दोपहर लाहौर से मिलान के रास्ते पेरिस के लिए रवानी हुईं थीं.

पेरिस में विमान के उतरते वक्त भी वो सोती रहीं और दुर्भाग्य से उन्होंने केबिन कर्मी दल को अपने पेरिस में उतरने की सूचना नही दी.

सुल्तान अहमद, प्रवक्ता, पीआईए

"इस घटना की जाँच की जा रही है. साथ ही फ्रांस में उस सहयोगी दल से भी पूछताछ की जा रही है जिसका काम यात्रियों को उतारना है."

ये मामला उस समय सामने आया जब बुधवार को लाहौर में आव्रजन आधिकारियों ने उन्हें रोक लिया.

जाँच

पाकिस्तान इंटरनेश्नल एयरलाइंस के प्रवक्ता सुल्तान अहमद ने समाचार ऐजेंसी एएफपी को बताया कि इस घटना की जाँच की जा रही है. साथ ही फ्रांस में उस सहयोगी दल से भी पूछताछ की जा रही है जिसका काम यात्रियों को उतारना है.

प्रवक्ता ने ये भी कहा कि गंतव्य स्थल के बारे में जानकारी हासिल करना और हवाई अड्डे पर उतरना यात्री की ही जिम्मेदारी होती है

पाकिस्तान इंटरनेश्नल एयरलाइंस ने श्रीमती अहमद को दूसरी एअरलाइन से वापस भेजा क्योंकि उस वक्त उसकी अपनी कोई पेरिस की उड़ान नही थी.

प्रवक्ता ने कहा कि इस घटना के लिए जो भी दोषी पाया जाएगा उसे यात्री की वापसी के लिए खर्च किए गए अतिरिक्त किराए का भुगतान करना होगा. पर ये इस बात पर निर्भर करता है कि आखिर गलती किसकी थी.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.