सीरिया में विद्रोहियों का हेलिकॉप्टर गिराने का दावा

 सोमवार, 27 अगस्त, 2012 को 18:47 IST तक के समाचार
सीरिया

सीरिया में विद्रोही गुटों ने सेना की एक हेलिकॉप्टर को मार गिराने का दावा किया है.

सीरिया में कुछ हथियारबंद विद्रोहियों ने दावा किया है कि उन्होंने राजधानी दमिश्क के उपर से गुज़र रहे एक सैन्य हेलिकॉप्टर को मार गिराया है.

फ्री सीरियन आर्मी नाम के इस गुट का कहना है कि ये हेलिकॉप्टर देश के उत्तर पश्चिम इलाके जोबार में गोलीबारी कर रहा था और अब पड़ोसी प्रांत काबून में दुर्घटनाग्रस्त हो गया है.

सीरिया की सरकारी मीडिया ने भी इस खबर की पुष्टि की है.

इससे पहले रविवार को विपक्षी कार्यकर्ताओं ने कहा था कि राजधानी दमिश्क से सटे शहर दराया में सरकारी फौज ने तीन सौ से ज्यादा लोगों की हत्या की है.

वीडियो फुटेज में दिखाया गया है कि दराया में बड़ी संख्या में महिलाएं, बच्चे और पुरुषों की लाशें मिली हैं. इन लोगों ने सरकारी सेनाओं पर नरसंहार का आरोप लगाया था.

जबकि सरकारी मीडिया ने इसके लिए विद्रोहियों को ज़िम्मेदार ठहराते हुए कहा कि दराया शहर चरमपंथी अवशेषों से खाली हो गया है.

युद्ध अपराध

सीरिया मामले की जांच कर रही अंतरराष्ट्रीय मानवधिकार संगठन की स्वतंत्र समिति के अध्यक्ष पाउलो पिनहीरो ने बीबीसी को बताया कि इन हत्यायों को युद्ध के दौरान किया जाने वाला अपराध माना जाएगा.

घटना के चश्मदीदों ने समाचार एजंसी रॉयटर्स को बताया कि सेना के इस हेलिकॉप्टर को तब मार गिराया गया जब ये विद्रोहियों और सरकारी सेना के बीच चल रही लड़ाई के दौरान जोबार शहर पर बमबारी कर रहा था.

"सेना का ये हेलिकॉप्टर तड़के सुबह से शहर के पूर्वी इलाके में लगातार मंडराते हुए हमला कर रहा था. एक घंटे की लगातार कोशिश के बाद आखिरकार विद्रोहियों ने उसे मार गिराया."

अबु बक्र, स्थानीय कार्यकर्ता

इन लोगों के अनुसार हमले के बाद हेलिकॉप्टर में आग लग गई और वो काबून के रिहायशी इलाके की एक पतली सी गली में जा गिरा.

स्थानीय कार्यकर्ता अबु बक्र के अनुसार, ''सेना का ये हेलिकॉप्टर तड़के सुबह से शहर के पूर्वी इलाके में लगातार मंडराते हुए हमला कर रहा था, एक घंटे की लगातार कोशिश के बाद आखिरकार विद्रोहियों ने उसे मार गिराया.''

इन कार्यकर्ताओं ने इंटरनेट पर एक वीडियो भी जारी किया गया है जिसमें एक जलते हुए हेलिकॉप्टर को ज़मीन पर गिरते हुए दिखाया गया है.

दमिश्क में सक्रिय एफएसए बद्र बटालियन के ओमर अल खाबुनी ने समाचार एजंसी एएफपी को बताया कि हेलिकॉप्टर के पायलट के शव को ढूंढ लिया गया है.

उनके अनुसार ऐसा दराया हत्याकांड के विरोध में किया गया है.

एफएसएल ने दावा किया है कि उन्होंने 13 अगस्त को भी एक मिग-23 लड़ाकू विमान को भी मार गिराया था.

सीरिया

ये हेलिकॉप्टर जोबार, जमाल्का और इरबीन में रॉकेट से हमला कर रहा था.

ऐसा माना जा रहा है कि ये हेलिकॉप्टर जोबार और आसपास के ज़िलों जमाल्का और इरबीन में रॉकेट से हमला कर रहे थे.

इस बीच सीरिया के राष्ट्रपति बशर अल-असद ने दोहराया है कि, सीरिया में जारी विद्रोह विदेशी षडयंत्र का नतीजा है और वो इसे किसी भी हालत में सफल नहीं होने देंगे.

सरकारी समाचार एजंसी सना में राष्ट्रपति असद ने कहा, ''सीरिया में अभी जो कुछ भी हो रहा है वो सिर्फ सीरिया नहीं बल्कि पूरे क्षेत्र के लिए हो रहा है और सीरिया उसका पहला पड़ाव है.''

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

इसी विषय पर और पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.