मनमोहन का आश्वासन, सभी मुद्दों पर चर्चा होगी: पाक

पाकिस्तान और भारत के झंडे
Image caption भारतीय विदेश मंत्री कृष्णा गुरुवार को पाकिस्तानी विदेश मंत्री क़ुरैशी से मिले थे

भारत और पाकिस्तान के विदेश मंत्रियों की गुरुवार को हुई वार्ता और फिर आरोप-प्रत्यारोप के दौर के बाद पाकिस्तान ने कहा है कि वह 'भारत के साथ बातचीत जारी रखने के पक्ष में है और प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह आश्वासन दे चुके हैं कि सभी मुद्दों पर चर्चा होगी.'

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री यूसुफ़ रज़ा गिलानी ने शनिवार को लाहौर के पास पत्रकारों के साथ बातचीत में ये विचार व्यक्त किए हैं.

उन्होंने कहा, "पाकिस्तान भारत के साथ वार्ता जारी रखने के पक्ष में है. प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह मुझे आश्वासन दे चुके हैं कि सभी मुद्दों पर चर्चा होगी."

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री का कहना था, "हम बातचीत चाहते हैं, वे (भारतीय) भी बातचीत चाहते हैं. जब वार्ता होगी तो सभी मुद्दों पर चर्चा होगी."

ग़ौरतलब है कि गुरुवार को इस्लामाबाद में भारत और पाकिस्तान के विदेश मंत्रियों के बीच वार्ता हुई थी लेकिन किसी भी मसले पर कोई ठोस परिणाम निकल कर नहीं आया था. लेकिन इसके बाद भारत और पाकिस्तान के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरु हो गया था.

रिश्ते सामान्य हों: क़ुरैशी

शुक्रवार को पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद क़ुरैशी ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा था कि भारतीय प्रतिनिधिमंडल सीमित विषयों पर बात करना चाहता था और बार-बार दिल्ली से निर्देश ले रहा था.

उधर भारतीय विदेश मंत्री एसएम कृष्णा ने कहा, "मैं विदेश मंत्री क़ुरैशी के साथ किसी बहस में नहीं पड़ना चाहता हूँ. तथ्य यह है कई मुद्दों पर चर्चा हुई और पहल हुई. हमें उनके भारत आकर चर्चा को आगे बढ़ाने का इंतज़ार है. भारत इस वार्ता के लिए पूरी तरह तैयार था. मैंने निर्देशानुसार काम किया और मैं संतु्ष्ट हूँ."

उन्होंने ये भी कहा कि उन्होंने इस्लामाबाद में वार्ता के दौरान दिल्ली एक भी बार फ़ोन नहीं किया और इसकी ज़रूरत भी महसूस नहीं की थी.

समाचार एजेंसियों के अनुसार शनिवार को पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद क़ुरैशी ने कहा कि भारत के साथ बातचीत और रिश्ते सामान्य बनाने के बारे में बहुत गंभीर है.

उनका कहना था कि बहुत लंबे समय से भारत और पाकिस्तान के बीच संघर्ष के संबंध रहे हैं और समय आ गया है कि पूरी गंभीरता से सभी द्विपक्षीय मद्दों को सुलझाया जाए और नई शुरुआत की जाए.

संबंधित समाचार