पाकिस्तान में आधिकारिक स्वतंत्रता समारोह रद्द

आसिफ़ अली ज़रदारी
Image caption पाकिस्तान के राष्ट्रपति कल पंजाब और ख़ैबर-पख़्तूनख़्वा का दौरा करेंगे.

भीषण बाढ़ से जूझ रहे पाकिस्तान में राष्ट्रपति आसिफ़ अली ज़रदारी ने निर्देश दिए हैं कि शनिवार यानि 14 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस के मौक़े पर आधिकारिक समारोह नहीं होंगे.

राष्ट्रपति ज़रदारी के प्रवक्ता फ़रहतुल्लाह बाबर ने शुक्रवार को एक विज्ञप्ति में कहा, “राष्ट्रपति ज़रदारी ने बाढ़ के मद्देनज़र निर्देश दिए हैं कि इस वर्ष किसी भी स्वतंत्रता समारोह का आयोजन नहीं होगा.”

प्रवक्ता ने कहा है कि ज़रदारी 14 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर बाढ़ से प्रभावित ख़ैबर-पख़्तूनख़्वा और पंजाब प्रांतों का दौरा करेंगे.

पिछले कुछ दिनों में ज़रदारी की इस बात को लेकर आलोचना हुई है कि वे बाढ़ के राहत और बचाव कार्यों में सीधी भूमिका नहीं निभा रहे हैं.

सयुंक्त राष्ट्र के मुताबिक पाकिस्तान में पिछले 80 सालों में आई सबसे भयंकर बाढ़ के चलते एक करोड़ चालीस लाख लोग प्रभावित हुए हैं और क़रीब 1600 लोग मारे गए हैं.

पाकिस्तान के राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण का कहना है कि अगले सप्ताह पंजाब और सिंध में बाढ़ के हालात और बदतर हो सकते हैं.

स्वतंत्रता समारोह

Image caption बाढ़ के वक़्त ज़रदारी के ब्रिटेन दौरे का लोगों ने ख़ूब विरोध किया.

कड़ी आलोचना का सामना करने के बाद ज़रदारी ने गुरुवार को सिंध प्रांत का दौरा किया था.

हांलाकि ज़रदारी ने रुस का अपना आगामी दौरा रद्द नहीं किया है लेकिन ये ज़रुर कहा है कि वो दो दिन की बजाय वहां चंद घंटों के लिए ही रहेंगे.

बीबीसी संवाददाता के मुताबिक इस्लामाबाद कोई भी विशेष आधिकारिक समारोह नहीं होंगे साथ ही सेना मुख्यालय में भी कोई विशेष परेड आयोजित नहीं की जाएगी.

इसके अलावा आतिशबाज़ी, सांस्कृतिक कार्यक्रम और संगीत समारोह भी रद्द कर दिए गए हैं.

बीबीसी संवाददाता के मुताबिक लोगों को स्वतंत्रता दिवस मनाने की छूट होगी लेकिन लगता है इस साल चौदह अगस्त को पहले जैसी धूम नहीं होगी.

संबंधित समाचार