कराची में हिंसा, 24 की मौत

कराची
Image caption पिछले कुछ महीनों में हुई हिंसा के दौरान कराची में दर्जनों लोग मारे गए हैं

पाकिस्तान के कराची शहर में हुई हिंसा की वारदातों में 24 लोग मारे गए हैं और 30 से ज्यादा ज़ख्मी हुए हैं.

हिंसा के बाद पाकिस्तान के सबसे बड़े शहर में तनाव का माहौल है.

बीबीसी संवाददाता का कहना है कि हिंसा की शुरूआत औरंगी टाउन के बुख़ारी कॉलोनी से हुई जब कुछ हथियारबंद लोगों ने दो बसों पर फायरिंग की जिसमें तीन लोग मारे गए और कई अन्य घायल हो गए.

बाद में पुलिस को शहर के एक क्षेत्र से तीन शव बरामद हुए.

पुलिस का कहना है कि इन लोगों के हाथ पाँव बंधे हुए थे और इन्हें यातना देकर मारा गया था.

हिंसा का सिलसिला शहर के अलग अलग इलाक़ों में भी रात भर जारी रहा.

फ़ायरिंग की घटनाओं में घायल होने वाले 30 से ज्यादा लोगों को स्थानीय अस्पतालों में भर्ती कराया गया है.

चुनावी हिंसा

हिंसा की घटनाएँ रात भर जारी रहीं और इस दौरान कुछ हथियारबंद लोगों ने तीन गाड़ियों को आग लगा दी जिसमें एक निजी टीवी चैनेल की वैन भी शामिल है.

इस बीच मुत्तहदा कौमी मूवमेंट ने एक बयान में कहा है कि हिंसा की ये घटनाएँ सूबे में होने वाले उपचुनाव को प्रभावित करने की कोशिश है.

ख़बरों के अनुसार सभी हमलावर अलग-अलग राजनीतिक दलों से जुड़े थे.

राजनीतिक लक्ष्य से किए जा रहे इन हमलों के बीच प्रांत की विधानसभा में एमक्यूएम नेता रज़ा हैदर की मौत के बाद खाली हुई सीट के लिए चुनाव प्रक्रिया शुरु हो गई है.

मतदान को लेकर हिंसा का ये दौर हाल ही में शुरु हुआ जब अवामी नेशनल पार्टी ने चुनाव के बहिष्कार की घोषणा की.

ख़बरों के अनुसार सभी हमलावर अलग-अलग राजनीतिक दलों से संबंध रखते थे.

राजनीतिक लक्ष्य से किए जा रहे इन हमलों के बीच प्रांत की विधानसभा में एमक्यूएम नेता रज़ा हैदर की मौत के बाद खाली हुई सीट के लिए चुनाव प्रक्रिया शुरु हो गई है.

संबंधित समाचार