पाक: ड्रोन हमला में छह लोगों की मौत

ड्रोन विमान
Image caption पिछले कई महीनों के दौरान ड्रोन हमलों में बढ़ौतरी हुई है.

पाकिस्तान के क़बायली इलाक़े उत्तर वज़ीरिस्तान में एक अमरीकी ड्रोन विमान के हमले में छह संदिग्ध चरमपंथी मारे गए जबकि पांच अन्य घायल हो गए.

अधिकारियों का कहना है कि मरने वालों में अधिकतर स्थानीय तालिबान हैं.

स्थानीय प्रशासन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बीबीसी को बताया कि उत्तर वज़ीरिस्तान के मुख्य शहर मीरानशाह से क़रीब 30 किलोमीटर दूर दत्ता ख़ेल में दो अमरीकी मानवरहित विमानों ने संदिग्ध चरमपंथियों के ठिकाने और एक वाहन को निशाना बनाया.

अधिकारी का कहना है कि दोनों हमलों में कम से कम छह लोग मारे गए जिन में चार लोग वाहन में थे और दो एक मकान में थे. इन हमलों में पांच अन्य घायल हो गए जिन को तालिबान विद्रोही ले गए.

ग़ौरतलब है कि जिन इलाक़ों में ड्रोन विमानों ने ठिकानों को निशाना बनाया है वहाँ आम लोग कम रहते हैं और यह दूरदराज़ पहाड़ी इलाक़ा है.

अधिकारियों के अनुसार उत्तर वज़ीरिस्तान के दूरदराज़ पहाड़ी इलाक़ों में संदिग्ध चरमपंथियों के सुरक्षित ठिकाने मौजूद हैं.

हाफिज़ गुल बहादुर निशाने पर

अधिकारी ने बताया कि ड्रोन विमानों ने हाफिज़ गुल बहादुर गुट के ठिकानों को निशाना बनाया और विमानों ने घर पर दो और वाहन पर चार मिसाइल फ़ायर किए.

Image caption स्थानीय लोगों ने ड्रोन हमलों के ख़िलाफ विरोध प्रदर्शन भी किए हैं.

उन्होंने कहा कि मरने वालों में दो विदेशी चरमपंथी भी बताए जाते हैं जिनका संबंध हाफिज़ गुल बहादुर गट से है.

स्थानीय लोगों ने बीबीसी को बताया कि अमरीकी ड्रोन विमानों ने हाफिज़ गुल बहादुर गुट के एक ठिकाने और विदेशियों के एक वाहन पर हमला किया. ख़बरें हैं कि संदिग्ध विदेशी चरमपंथी तुर्कमानिस्तान के हैं.

पिछले कई महीनों के दौरान उत्तर वज़ीरिस्तान में अमरिकी ड्रोन हमलों में तेज़ी आई है और एक ही वक़्त में कई ड्रोन विमान इलाक़े पर मौजूद रहते हैं.

पाकिस्तान सरकार ने कई बार अमरीकी ड्रोन हमलों पर विरोध जताया है और कहा है कि यह हमले आतंकवाद के ख़िलाफ युद्ध पर नकारात्मक प्रभाव डाल रहे हैं

संबंधित समाचार