'जान से मारने की धमकी मिली थी'

ज़ुलक़रनैन
Image caption ज़ुलक़रनैन ने अतंरराष्ट्रीय क्रिकेट से सन्यास लेने की पुष्टि की है

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के विकेटकीपर ज़ुलक़रनैन हैदर ने कहा है कि उनको और उनके परिवार को जान से मारने की धमकी मिलने के बाद वे घबरा गए थे.

उन्होंने लंदन में एक पत्रकार वार्ता में बताया, “एक व्यक्ति ने मुझे धमकी दी थी. मैं उस व्यक्ति को नहीं जानता था, न ही उस से पहले मैं कभी मिला था. मैं इससे घबरा गया था.”

उन्होंने कहा, “उस शख़्स में मुझसे कहा कि अगर तुम हमारे साथ काम करोगे तो बहुत पैसे दिए जाएँगे और अगर नहीं करते तो टीम में नहीं खेल सकोगे. तुम वापस घर लौट जाओगे और हम तुम्हें और तुम्हारे घर वालों को जान से मार देंगे.”

ज़ुलक़रनैन हैदर ने पत्रकार वार्ता में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास और ब्रिटेन में शरण लेने की पुष्टि की.

उस पत्रकारवार्ता के बाद ज़ुलक़रनैन हैदर की ब्रिटेन में पाकिस्तान के राजदूत वाजिद शमसुलहसन से मुलाक़ात हुई.

ज़ुलक़रनैन ने अधिकारियों को सूचित किए बिना दुबई से लंदन जाने के अपने फ़ैसले का बचाव करते हुए कहा, “वह समय मेरे लिए बहुत अहम था इसलिए मैंने टीम प्रशासन को नहीं बताया. उस वक़्त में काफ़ी तनाव में था और कुछ भी समझ नहीं आ रहा था.”

उन्होंने कहा कि वे क्रिकेट के खिलाड़ी हैं और वे एक अच्छे नागरिक बनना चाहते हैं.

ग़ौरतलब है कि ज़ुलक़रनैन हैदर कुछ दिन पहले दुबई से अचानक लंदन चले गए थे और उन्होंने वहाँ सरकार से राजनीतिक शरण देने का अनुरोध किया था.

पाकिस्तानी क्रिकेट टीम हाल के दिनों में किसी न किसी विवाद से घिरी रही है.

इस साल अगस्त में तीन पाकिस्तानी क्रिकेटरों पर आरोप लगा था कि वे लंदन में मैच फ़िक्सिंग रैकट का हिस्सा थे. फ़िलहाल इस मामले की जाँच चल रही है.

संबंधित समाचार