आज दफन होंगे सलमान तासीर

पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के वरिष्ठ नेता और पंजाब प्रांत के गवर्नर सलमान तासीर की इस्लामाबाद में उनके ही अंगरक्षकों ने ही हत्या कर दी है.

तासीर का शव मंगलवार की देर रात लाहौर लाया गया है. पंजाब प्रांत में छुट्टी का ऐलान कर दिया गया है और प्रधानमंत्री युसुफ रज़ा गिलानी ने तीन दिन के शोक का ऐलान किया है.

बुधवार की दोपहर तासीर को सुपुर्दे खाक किया जाएगा. तासीर की हत्या के बाद पीपीपी के कार्यकर्ताओं ने देश के कई स्थानों पर प्रदर्शन किए हैं.

सलमान तासीर उन नेताओं में से थे जो ईश निंदा संबंधी क़ानूनों का विरोध करते थे.

बीबीसी ने लाहौर में आम लोगों से बातचीत की जिसमें लगभ सभी लोगों का कहना था कि तासीर की हत्या करना बिल्कुल ग़लत था.

अंगरक्षक बना हत्यारा

पुलिस के अनुसार इस्लामाबाद की कोहसार मार्कीट में एक सुरक्षाकर्मी ने उन पर उस समय गोलियाँ चलाईं जब वे अपनी गाड़ी से उतर रहे थे. पुलिस का कहना है कि गोलियाँ उनके ही सुरक्षागार्ड ने चलाईं.

कुछ दिन पहले सलमान तासीर ने ईश-निंदा के आरोप में मौत की सज़ा काट रही ईसाई महिला आसिया बीबी से मुलाक़ात की थी और उनकी माफ़ी के लिए राष्ट्रपति से अनुरोध करने का आश्वासन दिया था. इसके बाद से उनको धमकियाँ मिल रही थीं.

पुलिस अधिकारियों का कहना है कि सलमान तासीर के सीने पर कई गोलियाँ लगी और वे गंभीर रुप से घायल हो गए जिसके बाद उन्हें करीबी अस्पलात पहुँचाया गया.डॉक्टरों ने सलमान तासीर को मृत घोषित कर दिया और कहा कि उनके सीने पर नौ गोलियाँ लगी हैं.

पुलिस ने घटनास्थल को घेरे में लिया और कुछ संदिग्ध लोगों को भी गिरफ्तार किया है. गोलीबारी के बाद सभी दुकानें बंद हो गई हैं.

सलमान तासीर पाकिस्तान की अहम राजनीतिक हस्तियों में से एक थे. उनकी हत्या ऐसे समय हुई है जब पाकिस्तान राजनीतिक अस्थिरता के दौर से गुज़र रहा है.

संबंधित समाचार