पाक का मिसाइल का परीक्षण

बाबर मिसाइल
Image caption पाकिस्तानी सेना ने क्रूज़ मिसाइल बाबर का सफ़ल परिक्षण किया.

पाकिस्तानी सेना का कहना है कि उसने ज़मीन से ज़मीन पर मार करने वाली क्रूज़ मिसाइल हत्फ़-7 का परिक्षण किया है जिसे ‘बाबर’ का नाम दिया गया है.

सैन्य अधिकारियों के अनुसार यह मिसाइल 600 किलोमीटर तक मार कर सकती है और ये सभी प्रकार के परमाणु अस्त्र ले जाने में भी सक्षम है.

पाकिस्तानी सेना की ओर से जारी एक बयान में इस परीक्षण को सफ़ल बताते हुए कहा गया है कि यह मिसाइल कम ऊंचाई पर भी उड़ने की क्षमता रखती है और अपने लक्ष्य को भेद सकती है.

बयान में यह भी बताया गया है कि इस क्रूज़ मिसाइल को पाकिस्तान के वैज्ञानिकों ने तैयार किया है जिसमें आधुनिक तकनीक का प्रयोग किया गया है.

राष्ट्रपति आसिफ़ अली ज़रदारी और प्रधानमंत्री यूसुफ़ रज़ा गिलानी ने मिसाइल की सफ़ल परीक्षण पर सेना को बधाई दी.

ग़ौरतलब है कि पाकिस्तान ने 1980 के दशक में हत्फ़-1 और हत्फ़-2 का विकास किया और इसी के साथ पाकिस्तान का ज़मीन से ज़मीन पर मार करने वाला मिसाइल कार्यक्रम शुरू हुआ था.

हत्फ़-1 की मारक क्षमता 80 किलोमीटर की है और ये 500 किलोग्राम तक के वज़न वाले अस्त्र ले जा सकता है.

हत्फ़-2 की मारक क्षमता 300 किलोमीटर और भार क्षमता 500 किलोग्राम की है.

संबंधित समाचार