बातचीत में अहम भूमिका निभाएगा पाक: बशीर

Image caption भारत और पाकिस्तान के विदेश सचिवों ने छह फ़रवरी को भूटान के शहर थिम्पू में मुलाक़ात की थी.

पाकिस्तान के विदेश सचिव सलमान बशीर ने भारत और पाकिस्तान के बीच फिर शुरु हो रही वार्ता को सकारात्मक संकेत बताते हुए कहा है कि पाकिस्तान बदलाव में अहम भूमिका निभाएगा.

पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए बशीर ने कहा, ''भारत और पाकिस्तान के बीच वार्ता शुरु करने का फ़ैसला एक सकारात्मक संकेत है. हम कठिन मुद्दों का सामना कर रहे हैं जिस के लिए धैर्य और दृढ़ता की ज़रूरत है.''

उन्होंने कहा कि इस वार्ता में पाकिस्तान ‘गेम चेंजर’ की भूमिका निभाएगा और एक सकारात्मक सोच के साथ भारत से बातचीत की शुरुआत करेगा.

सलमान बशीर ने बताया कि भारत और पाकिस्तान के बीच हो रही यह संपूर्ण वार्ता है जिस में सभी मुद्दों पर बड़ी सावधानी से बातचीत की जाएगी.

उन्होंने कहा, ''इस बार हम काफ़ी आश्वस्त और आशावादी हैं और हम क्षेत्रीय तस्वीर को बदल देंगे. अगर हम अतीत में फंसे रहे तो कभी भी पाकिस्तान, भारत और दक्षिण एशिया के लोगों की आकांशाओं को पूरा नहीं कर सकते.''

उन्होंने पत्रकारों को बताया, ''सभी मुद्दों को हल करने की ज़रुरत है, लेकिन दक्षिण एशिया की तस्वीर को बदलने के लिए वचनबद्धता और धैर्य की भी ज़रुरत है.''

ग़ौरतलब है कि भारत और पाकिस्तान ने कुछ दिन पहले एक बयान जारी कर दोनों देशों के बीच सभी मुद्दों पर बातचीत शुरु करने पर सहमति जताई थी.

भारत और पाकिस्तान के विदेश मंत्रालयों की ओर से गुरुवार को लगभग एक ही समय पर जारी किए गए बयानों में कहा गया है कि अप्रैल 2010 में दोनों देशों के प्रधानमंत्रियों की थिम्पू में बातचीत के तहत दोनों देशों के विदेश सचिवों की थिम्पू में बैठक हुई और आम सहमति बनी है.

ग़ौरतलब है कि दोनों देशों के बीच समग्र वार्ता प्रक्रिया पर नवंबर 2008 के मुंबई हमलों के बाद विराम लगा हुआ है. भारत की ओर से बातचीत के लिए लगातार ये शर्त लगाई जा रही थी कि पाकिस्तान अपनी भूमि पर भारत-विरोधी चरमपंथ के नेटवर्क को नष्ट करे.

दूसरी ओर पाकिस्तान लगातार ये कह रहा था कि वह चरमपंथी हमलों का निशाना बन रहा है और इस दिशा में सभी संभव प्रयास कर रहा है.

भारत और पाकिस्तान के बीच बातचीत नाकाम होने के छह महीने बाद द्विपक्षीय बातचीत की प्रक्रिया को आगे बढ़ाने के उद्देश्य से दोनों देशों के विदेश सचिवों ने छह फ़रवरी को भूटान के शहर थिम्पू में मुलाक़ात की थी.

संबंधित समाचार