'रेमंड डेविस को राजनयिक संरक्षण नहीं'

क़ुरैशी
Image caption शाह महमूद क़ुरैशी को हाल के फेरबदल में विदेश मंत्रालय का कार्यभार नहीं सौंपा गया है. वो मंत्रीमंडल से बाहर हैं.

पाकिस्तान के पूर्व विदेश मंत्री शाह महमूद क़ुरैशी ने कहा है कि पाकिस्तानी हुकूमत की एक उच्चस्तरीय बैठक में फ़ैसला किया गया था कि दो पाकिस्तानियों की हत्या के अभियुक्त अमरीकी अधिकारी रेमंड डेविस को राजनयिक संरक्षण प्राप्त नहीं है.

ग़ौरतलब है कि अमरीकी सांसद जॉन कैरी आजकल पाकिस्तान में हैं.

कैरी से मुलाक़ात के बाद शाह महमूद कुरैशी ने इस्लामाबाद में एक पत्रकार वार्ता में बताया कि पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय में हुई एक उच्चस्तरीय बैठक में, विदेश और गृह मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों ने जानकारी के आधार पर फैसला किया गया था कि रेमंड डेविस को राजनयिक संरक्षण या छूट प्राप्त नहीं है.

रेयमंड डेविस की रिहाई चाहते हैं ओबामा

उधर जॉन कैरी ने कहा है कि कागज़ात इस बात को साफ़ करते हैं कि रेमंड डेविस को राजनयिक संरक्षण हासिल है और इसीलिए उनका मामला अदालत में नहीं चलाया जा सकता है.

कैरी ने कहा, "ये मामला अदालत का नहीं है. और ये इसीलए क्योंकि ये व्यक्ति इस्लामाबाद स्थित अमरीकी दूतावास में तकनीकी कर्मचारियों का एडम्नीस्टेटर है जिसकी वजह से उसे राजनयिक संरक्षण हासिल है."

अमरीकी नागरिक रेमंड डेविस ने जनवरी में लाहौर में दो पाकिस्तानी नागरिकों को गोली मार दी थी जिसके बाद वो गिरफ़्तार हो गए थे और उनका मामला गुरुवार को अदालत में सुना जाना है.

अमरीका रेमंड डेविस को रिहा करने की मांग कर रहा है.

बुधवार को प्रेस वार्ता में कुरैशी ने कहा कि रेमंड डेविस के मामले विदेश मंत्रालय में 31 जनवरी को एक और बैठक हुई थी.

उनका कहना था कि जब लाहौर में अमरीकी अधिकारी ने दो पाकिस्तानी नागरिकों की हत्या की थी तो उन्हें इस मुद्दे पर बयान देने से रोका गया था.

उनके अनुसार पीपुल्स पार्टी की कार्यकारिणी की बैठक में उन्होंने रेमंड डेविस के मामले पर विदेश मंत्रालय की ओर से दी गई ब्रीफ़िंग की जानकारी दी थी.

पार्टी में मतभेद

शाह महमूद क़ुरैशी ने बताया कि पार्टी की बैठक में फ़ैसला लिया गया था कि यह मामला अदालत में चल रहा है इसलिए अदालत को ही अमरीकी अधिकारी के राजनयिक संरक्षण का फ़ैसला करना है.

Image caption अमरीकी सांसद कैरी ने शाह महमूद कुरैशी के अलावा दूसरे पाकिस्तानी नेताओं से भी मुलाक़ात की है.

इस मामले में पीपुल्स पार्टी के भीतर मतभेद नज़र आ रहे हैं.

पार्टी की सूचना सचिव फ़ौज़िया वहाब के बयान के बाद कि डेविस को राजनयिक संरक्षण प्राप्त है, राष्ट्रपति आसिफ़ अली ज़रदारी के प्रवक्ता फ़रहातुल्लाह बाबर ने इसका खंडन किया था और कहा था कि यह उनकी व्यक्तिगत राय है.

संबंधों में तनाव

डेविस के मामले को लेकर अमरीका और पाकिस्तान के संबंधों में तनाव पैदा हो गया है.

अमरीका रेमंड डेविस की रिहाई के लिए पाकिस्तान पर दबाव बढ़ा रहा है और अमरीकी कॉंग्रेस के वरिष्ठ सांसद सीनेटर जॉन कैरी इस्लामाबाद में हैं. उन्होंने पाकिस्तानी नेतृत्व से मुलाक़ात कर रेमंड डेविस की रिहाई की मांग की है.

इससे पहले अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने भी इस मामले पर अपनी चुप्पी तोड़ी है. ओबामा ने कहा था कि राजनयिक संरक्षण का सीधा मतलब ये है कि 36 वर्षीय रेमंड डेविस को रिहा किया जाना चाहिए.

संबंधित समाचार