'इज़्ज़त से बुलाएंगे तो फिर जाऊंगा'

राहत इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption राहत फ़तेह अली ख़ान बुधवार को पाकिस्तान पहुँचे.

भारत में विदेशी मुद्रा क़ानून का उल्लंघन करने के आरोप में हिरासत में लिए गए मशहूर पाकिस्तानी गायक राहत फ़तेह अली ख़ान ने कहा है कि उन्हें इज़्ज़त से बुलाया गया तो दोबारा ज़रुर भारत जाएँगे.

राहत फ़तेह अली ख़ान ने बुधवार की सुबह भारत से इस्लामाबाद पहुँचने के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि उन्हें भारत के कस्टम नियमों की जानकारी नहीं थी इसलिए उन्हें दिल्ली में क़ानूनी कार्रवाई का सामना करना पड़ा.

उन्होंने बताया कि भारतीय अधिकारियों ने उन की रक़म ज़ब्त कर ली और उन्हें कस्टम नियमों का उल्लंघन करने पर भारी जुर्माना भी भुगतान करना पड़ा.

रक़म ज़ब्त

उन्होंने कहा, “जैसा कि होता है अगर आप को कस्टम वाले पकड़ लेते हैं तो आपकी सब चीज़ें ज़ब्त कर ली जाती हैं इस तरह हमारे सारे पैसे भी भारतीय अधिकारियों ने ज़ब्त कर लिए और 30 लाख भारतीय रुपया जुर्माना लगाया.”

जब उनसे पूछा गया कि उस घटना के बाद वे फिर भारत जाएंगे तो उन्होंने जवाब दिया, “अगर भारत वाले दोबारा इज़्ज़त से बुलाएँगे तो ज़रूर जाऊँगा.”

ग़ौरतलब है कि करीब एक सप्ताह पहले राहत फ़तेह अली ख़ान और उनके ग्रुप को दिल्ली के इंदिरा गांधी हवाई अड्डे पर उस समय रोक लिया गया था जब उनके पास से क़रीब सवा लाख डॉलर नक़द मिले थे.

राहत पर जुर्माना

भारतीय अधिकारियों ने बताया था कि सवा लाख डॉलर की इस रक़म के बारे में ग्रुप ने जानकारी नहीं दी थी और इतनी बड़ी मात्रा में विदेशी पैसा बिना घोषणा के लेकर चलना संदेह पैदा करता है.

राहत फ़तेह अली खान और उनके मैनेजर मारुफ़ पर विदेशी मुद्रा विनिमय अधिनियम (फ़ेमा) और कस्टम कानून के तहत मामला चलाया गया था.

जाँच के बाद राहत फ़तेह अली खान और उनके मैनेजर मारुफ़ अली पर 15-15 लाख रुपए का जु्र्माना भी लगाया गया.

संबंधित समाचार