'पाकिस्तान को सस्ती बिजली की पेशकश'

गिलानी सिंह इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption 30 मार्च को दोनों देशों के प्रधानमंत्रियों ने मोहाली में मुलाक़ात की थी.

पाकिस्तान के केंद्रीय व्यापार सचिव ज़फ़र महमूद ने कहा है कि भारत ने सस्ते दामों पर पाकिस्तान को बिजली देने का प्रस्ताव दिया है.

उन्होंने पत्रकारों से बात करते हुए कहा, “हमने भारतीय प्रस्वात का स्वागत किया है और भारत और पाकिस्तान के व्यापार सचिवों की बैठक में इस मुद्दे पर चर्चा की जाएगी.”

इस्लामाबाद स्थित बीबीसी हिंदी संवाददाता हफ़ीज़ चाचड़ के मुताबिक़ भारत और पाकिस्तान के व्यापार सचिवों के बीच वार्ता 27 और 28 अप्रैल को इस्लामाबाद में होगी जिस में व्यापार संबंधी सभी मुद्दों पर चर्चा होगी.

ज़फ़र महमूद के अनुसार भारत ने पाकिस्तान को निवेश केलिए अनुकूल क़रार दिया है लेकिन पाकिस्तान ने भारत को अभी तक इस प्रकार का कोई दर्जा नहीं दिया है जिस पर दोनों देशों के व्यापार सचिवों की बैठक में बातचीत की जाएगी.

उन्होंने बताया कि भारत के साथ सकारात्मक दिशा में बातचीत होने जा रही है जिसके भविष्य में बेहतर परिणाम निकलेंगे और ये दोनों देशों के विकास के लिए बेहद महत्वपूर्ण है.

'भारत बड़ी रुकावट'

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि यूरोपीय मंडियों तक पहुँचने में पाकिस्तान के लिए भारत बड़ी रुकावट है और आगामी वार्ता में इस मुद्दे पर भी भारत के साथ बीत की जाएगी.

उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर पाकिस्तान के केंद्रीय व्यापार मंत्री मख़दूम अमीन फ़हीम ने भारतीय सरकार को एक पत्र लिख अपनी चिंता से अवगत कराया है.

केंद्रीय व्यापार सचिन ने कहा, “भारत को पाकिस्तान और यूरोपीय देशों के बीच आर्थिक संबंधों को स्वीकार करना चाहिए और इस से भारतीय व्यापार पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा.”

ग़ौरतलब है कि पाकिस्तान पिछले कई सालों से यूरोपीय मंडियों तक पहुंचने की कोशिश कर रहा है.

संबंधित समाचार